अपना शहर चुनें

States

Gorakhpur News: शहर की टॉपर बेटी दिव्यांगी पीएम मोदी के साथ देखेगी गणतंत्र दिवस परेड

गोरखपुर की दिव्यांगी त्रिपाठी को मिला गणतंत्र दिवस परेड देखने का निमंत्रण.
गोरखपुर की दिव्यांगी त्रिपाठी को मिला गणतंत्र दिवस परेड देखने का निमंत्रण.

Gorakhpur News: गोरखपुर की टॉपर बेटी दिव्यांगी देश के अलग-अलग स्कूलों से टॉपर उन 50 छात्रों में शामिल है, जिन्हें प्रधानमंत्री बॉक्स में बैठकर गणतंत्र दिवस की परेड (Republic Day Parade) देखने के लिए आमंत्रित किया गया है.

  • Share this:
गोरखपुर. 26 जनवरी को राजपथ (Rajpath) पर होने वाली गणतंत्र दिवस परेड (Republic Day Parade) को गोरखपुर (Gorakhpur) की दिव्यांगी त्रिपाठी (Divyangi Tripathi) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के साथ बॉक्स में बैठकर देखेगी. दिव्यांगी ने सीबीएसई 12वीं में बायोलॉजी संवर्ग से ऑल इंडिया सेकंड रैक हासिल की थी. उसे इसी उपलब्धि पर पीएम मोदी के साथ गणतंत्र दिवस परेड देखने का मौका मिला है. इंदिरा नगर शिवपुरी कॉलोनी में रहने वाले दिव्यांगी को केंद्र सरकार का आमंत्रण पत्र 13 जनवरी को मिल गया है. इस आमंत्रण के बाद दिव्यांगी के घर पर उसके रिश्तेदार मिठाई खिला, बांट रहे हैं.

दिव्यांगी के पिता उमेश नाथ त्रिपाठी दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय में केमिस्ट्री के प्रोफेसर और मां ऊषा त्रिपाठी गृहिणी हैं. दिव्यांगी के दादा व भारतीय इतिहास अनुसंधान परिषद, नई दिल्ली के पूर्व अध्यक्ष प्रो. दयानाथ त्रिपाठी हैं. कक्षा 12वीं में दिव्यांगी ने 99.6 फीसदी अंक हासिल कर देशभर में दूसरा स्थान हासिल किया था. उसे हिंदी, केमिस्ट्री और बायोलॉजी में 100-100 और इंग्लिश व फिजिक्स में 99-99 अंक मिले थे. दिव्यांगी को दसवीं में भी 98.2 फीसदी अंक मिले थे.

पूरे देश से 50 टॉपर छात्रों को मिला निमंत्रण


दिव्यांगी 26 जनवरी को राजपथ में होने वाली परेड में विशिष्ट अतिथि के रूप में आमंत्रित है. पूरे देश से 50 छात्र बुलाए गए हैं, जो राजपथ से प्रधानमंत्री बॉक्स में बैठ कर परेड देखेंगे. ये वे छात्र हंं जो देश के अलग-अलग स्कूल बोर्ड से टॉपर हैं. फिलहाल दिव्यांगी को 25 जनवरी को नई दिल्ली के यूपी भवन में रिपोर्ट करना है जहां वह 25 से 27 तक रहेंगी. दिव्यांगी के साथ उसके पिता प्रो. उमेश नाथ त्रिपाठी और मां ऊषा त्रिपाठी भी दिल्ली जाएंगी.

डॉक्टर बनना चाहती हैं दिव्यांगी


12वीं के बाद दिव्यांगी ने दिल्ली विश्वविद्यालय के मिरांडा हाऊस में बायोलॉजी से स्नातक के लिए प्रवेश लिया था, लेकिन नीट की तैयारी के लिए उसने ज्वाइन नहीं किया. गोरखपुर में रह कर ही नीट की तैयारी कर रही हैं. उनका सपना डॉक्टर बन कर लोगों की सेवा करना है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज