Assembly Banner 2021

गोरखपुर: किशोरी को बंधक बनाकर गैंगरेप, एक आरोपी गिरफ्तार, दूसरा फरार

मौके पर पहुंचे एसएसपी ने किया निरीक्षण

मौके पर पहुंचे एसएसपी ने किया निरीक्षण

Gorakhpur Gangrape: ऑर्केस्ट्रा में डांस करने वाली पीड़िता ने बताया कि वह मंगलवार की रात 11 बजे घर लौट रही थी. इस दौरान दो युवक उसे बंधक बनाकर एक कमरे में ले गए और उनमें से एक ने उसके साथ रेप किया.

  • Share this:
गोरखपुर. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के गोरखपुर (Gorakhpur) जिले में एक किशोरी को बंधक बनाकर गैंगरेप (Gangrape) की वारदात का मामला सामने आया है. दरअसल पीड़ित किशोरी के मुताबिक दो युवकों ने उसे बंधक बनाकर गैंगरेप किया है. इस मामले में हड़हवा फाटक चौकी इंचार्ज की बड़ी लापरवाही भी सामने आई है. घटना का सज्ञान होने पर डीआईजी/एसएसपी जोगेंद्र कुमार ने घटनास्थल का मुआयना किया. साथ ही लापरवाह पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया.

पीड़िता के बयान पर आरोपियों के खिलाफ पॉक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है. ऑर्केस्ट्रा में डांस करने वाली पीड़िता ने बताया कि वह मंगलवार की रात 11 बजे घर लौट रही थी. इस दौरान दो युवक उसे बंधक बनाकर एक कमरे में ले गए और उनमें से एक ने उसके साथ रेप किया. इस मामले में पीड़िता जब पुलिस थाने पहुंची तो कोई कार्रवाई नहीं की गई. जिसके बाद किसी ने पीड़िता का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया.

Youtube Video




24 घंटे बाद हरकत में आई पुलिस, लिया ऐक्शन
वीडियो वायरल होने के बाद मौके पर महिला थाना प्रभारी और पुलिस टीम के साथ पहुंचे डीआईजी/एसएसपी ने घटना का निरीक्षण करते हुए पीड़िता के बयान के आधार पर पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज कराया और एक आरोपी को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है. वहीं इस मामले में चौकी इंचार्ज हड़हवा फाटक बृजेश यादव और कॉन्स्टेबल की ओर से कोई कार्रवाई न करने के आरोप में डीआईजी/एसएसपी ने दोनों को निलंबित कर दिया है.

पीड़िता का वीडियो वायरल करने वाले पर भी ऐक्शन
पीड़िता का आरोप है कि उसने पुलिस चौकी जाकर अपनी आपबीती सुनाई थी, लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की. पीड़िता का वीडियो बनाकर वायरल करने वाले शख्स के खिलाफ भी पुलिस कार्रवाई कर रही है.

रेप की धारा में केस दर्ज, एक आरोपी को हिरासत में
डीआईजी/एसएसपी जोगेंद्र कुमार ने बताया कि इस मामले में पीड़िता के बयान के आधार पर धारा 346, 376 डी और पॉक्सो ऐक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. मुख्य आरोपी को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है. पीड़िता को मेडिकल परीक्षण के लिए भेजा गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज