Gorakhpur News: पानी भरे गड्ढे में मिला तीनों लापता बच्चियों का शव, डूबने से मौत की आशंका

गोरखपुर के खजनी थाना क्षेत्र से तीन मासूम बच्चियां लापता हैं.

Gorakhpur News: मामला खजनी थाना के रुद्रपुर गांव का है, जहां तीन बच्चियां रहस्यमय हालात में बुधवार सुबह लापता हो गईं. दोपहर तक बच्चियों के घर नहीं लौटने पर उनके परिजनों ने काफी तलाश की, लेकिन कहीं पर भी उनका पता नहीं लगा.

  • Share this:
गोरखपुर. जिले के खजनी थाना क्षेत्र के रूद्रपुर गांव में लापता हुई तीन बच्चियों का शव पानी भरे गड्डे से बरामद हुआ है. गड्डे में डूबने से बच्चियों की मौत की आशंका जताई गई है. अनुमान लगाया जा रहा है कि बच्चियों के फिसलकर गड्डे में गिरने से हादसा हुआ. बता दें बुधवार की सुबह तीनों घर के पास बगीचे में खेलने गयी थी. पुलिस ने तीनों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है. गौरतलब है कि तीनों बच्चियां संदिग्ध परिस्थितियों में बगीचे से लापता हो गई थीं. लापता बच्चियों की सूचना मिलने पर एसएसपी दिनेश कुमार पी (SSP Dinesh Kumar P) ने गंभीरता दिखाते हुए बच्चियों की बरामदगी को लेकर कई थानों की पुलिस टीम को लगाया था. साथ ही सोशल मीडिया के जरिए गुमशुदा बच्चियों का पता लगाने को लेकर 25 हजार का इनाम भी एसएसपी दिनेश कुमार ने घोषित किया था.

मामला खजनी थाना के रुद्रपुर गांव का है, जहां तीन बच्चियां रहस्यमय हालात में बुधवार सुबह लापता हो गईं. दोपहर तक बच्चियों के घर नहीं लौटने पर उनके परिजनों ने काफी तलाश की, लेकिन कहीं पर भी उनका पता नहीं लगा. इसकी सूचना मिलते ही एसएसपी दिनेश कुमार प्रभु फोर्स के साथ गांव में पहुंच गये. इस दौरान गांव के आसपास के इलाकों के साथ पोखरों की भी तलाश की गई. गुरुवार सुबह तीनों का शव एक पानी भरे गड्ढे में उतरता दिखा।

इन बच्चियों की हुई मौत

गौरतलब है कि खजनी थाना के रुद्रपुर गांव के दुर्गेश की 7 साल की बच्ची शिवानी, वासुदेव की दस साल की बेटी रोशनी और दुर्विजय की 5 साल की बच्ची नैंसी एक साथ ही बुधवार की सुबह 10 बजे गांव के बगीचे में खेलने के लिए गई थीं. 12 बजे दोपहर तक वापस नहीं आईं. इस पर घरवालों ने काफी तलाश की लेकिन बच्चियां नहीं मिली. ऐसे में शाम चार बजे परिजनों ने पुलिस को सूचना दी. सूचना पर खजनी पुलिस तलाश में जुट गई और फिर अफसरों को इसकी जानकारी दी गई. अफसरों को जानकारी हुई तो खुद एसएसपी बुधवार की रात में गांव पहुंच गए. पुलिस ने अनहोनी की आशंका पर गांव के आसपास के पोखरों में गोताखोर की मदद से तलाश कराई है, लेकिन कहीं कुछ पता नहीं चल सका.