अमीर बनने की चाहत में ट्रक ड्राइवर का किया कत्ल, 4 आरोपी गिरफ्तार

एसएसपी ने बताया कि बीते 14 अगस्त को मृतक ट्रक चालक सुरेश कुमार और विजय पाल पटना से अलग-अलग ट्रकों पर सरिया लादकर गोरखपुर के लिए रवाना हुये थे.

Anil Singh | News18 Uttar Pradesh
Updated: September 16, 2018, 12:40 PM IST
अमीर बनने की चाहत में ट्रक ड्राइवर का किया कत्ल, 4 आरोपी गिरफ्तार
आरोपियों की फोटो
Anil Singh | News18 Uttar Pradesh
Updated: September 16, 2018, 12:40 PM IST
गोरखपुर पुलिस ने रविवार को ट्रक चालक सुरेश कुमार हत्याकांड का सनसनीखेज खुलासा किया है. एसएसपी शलभ माथुर के मुताबिक मृतक के साथी ट्रक चालक ने जल्द अमीर बनाने की लालच में आकर हत्या की साजिश रची थी. पुलिस ने हत्याकांड में शामिल दो हत्यारोपियों समेत चार को गिरफ्तार किया है. इनमें लूट के माल को ब्रिकी कराने के सहयोगी और सरिया कारोबारी को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है. जबकि ट्रक चालक की हत्या में वांछित एक हत्यारोपी फरार है.

गिरफ्त में आये हत्यारोपियों की निशानदेई पर पुलिस ने लूट का सरिया, 1.75 लाख की नगदी, ट्रक और आलाकत्ल बरामद किया है. खजनी पुलिस और क्राइम ब्रांच की टीम ने हत्यारोपियों को गोंडा जिले से गिरफ्तार किया है. वहीं मामले का खुलासा करते हुये एसएसपी शलभ माथुर ने मीडिया को बताया है कि दरअसल खुद का ट्रक खरीदने और गिरवी जमीन को छुड़ाने की लालच में आकर हत्यारोपियों ने ट्रक चालक की हत्या की पटकथा लिखी थी.

एसएसपी ने बताया कि बीते 14 अगस्त को मृतक ट्रक चालक सुरेश कुमार और विजय पाल पटना से अलग-अलग ट्रकों पर सरिया लादकर गोरखपुर के लिए रवाना हुये थे. इस दौरान सुरेश कुमार को अकेला देखकर विजय पाल ने अपने साथियों सुभाष, शेषनारायण और मेलाराम के साथ मिलकर सरिया लूटने का प्लान बनाया था. वहीं रास्ते में सुरेश कुमार को शराब में नशीला पद्रार्थ खिलाकर उसे बेहोश कर दिया.

जबकि गोरखपुर पहुंचने पर खजनी थाना क्षेत्र के तेनुआ टोल प्लाजा के पास ट्रक चालक सुरेश कुमार की हत्या करने के बाद उसके शव को फेंक कर ट्रक समेत लाखों का सरिया लेकर फरार हो गये थे. जिसके बाद लूटे के सरिया को विजय माल के जरिए गोंडा जिले के परसपुर के सरिया कारोबारी अभिषेक सोनी को कम दाम पर बेचा गया था. इस मामले में मृतक के भाई की शिकायत पर पुलिस ने हत्या और लूट का केस दर्ज किया था.

इस मामले के खुलासे को लेकर एसएसपी ने क्राइम ब्रांच और खजनी पुलिस को लगाया था. एक महिने की कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने सर्विलांस सेल और मुखबिर की मदद से हत्यारोपियों को गिरफ्तार कर ट्रक चालक की हत्या का खुलासा कर दिया.

ये भी पढ़ें:

VHP के अंतर्राष्ट्रीय महामंत्री बोले- राहुल गांधी हिंदू हैं या नहीं? मुझे नहीं पता
Loading...
संतकबीरनगर: ट्रक की चपेट में आने से दो सगे भाइयों की दर्दनाक मौत

बरेली: नहीं पहुंची एंबुलेंस, बीच सड़क पर तड़प-तड़प कर मर गई महिला

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर