गोरखपुर: दोस्त ही निकले वेद प्रकाश के कातिल, पुलिस ने किया सनसनीखेज खुलासा

दोस्त ही निकले वेद प्रकाश के कातिल

दोस्त ही निकले वेद प्रकाश के कातिल

एसएसपी (SSP) दिनेश कुमार पी ने बताया कि शाहपुर थाना क्षेत्र में 9 अप्रैल रहस्यमयी ढंग से एक सनसनीखेज हत्या की घटना को अंजाम दिया गया था.

  • Share this:

गोरखपुर. यूपी के गोरखपुर (Gorakhpur) जिले में पुलिस ने चर्चित वेद प्रकाश हत्याकांड का सनसनीखेज खुलासा किया है. पुलिस के मुताबिक वर्चस्व और बेइज्जती का बदला लेने को लेकर वेद प्रकाश के साथियों ने ही गोली मारकर उसकी हत्या की थी. पुलिस ने मुठभेड़ में हत्यारोपी मनोज सोनकर और परवेज अंसारी को गिरफ्तार किया है. साथ ही हत्या में इस्तेमाल पिस्टल, कारतूस और बाइक की भी बरामदगी पुलिस ने की है.

घटना गोरखपुर के शाहपुर इलाके की है. एसएसपी दिनेश कुमार पी ने बताया कि शाहपुर थाना क्षेत्र में 9 अप्रैल रहस्यमयी ढंग से एक सनसनीखेज हत्या की घटना को अंजाम दिया गया था. हमलावरों ने वेद प्रकाश के घर पर जाकर आवाज दी और दो फायर किया. जिसमे एक गोली वेद प्रकाश के सिर में लगी और उसकी मौत हो गई. इस दौरान सीसीटीवी फुटेज में बदमाशों की करतूत कैद हो गयी थी. जिसके आधार पर पुलिस ने परवेज अंसारी और मनोज सोनकर को पूछताछ के लिए बुलाया, लेकिन इन लोगों ने पुलिस को लगातार गुमराह किया. इन लोगों ने पुलिस को एक वीडियो दिखाया जिसमें यह लोग एक शादी समारोह मौजूद दिखाई दे रहे थे.

मायावती बोलीं- पंजाब सरकार द्वारा आपदा में मुनाफा कमाने का कृत्य अमानवीय, जांच की मांग

इस वीडियो के आधार पर पुलिस लगातार गुमराह हो रही थी. लेकिन इनके इनपुट के आधार पर पुलिस ने पुख्ता सबूत इकट्ठा करते हुए ने गिरफ्तार किया. आरोपी परवेज अंसारी ने बताया कि मृतक वेद प्रकाश और उसके दोस्त मकान में शराब और जुआ साथ- साथ खेलते थे. एक दिन किसी बात को लेकर परवेज अंसारी और मृतक वेद प्रकाश में किसी बात को लेकर कहासुनी हुई और बात इतनी बढ़ गई कि इन दोनों में हाथापाई तक हो गई जिससे बाद परवेज अंसारी काफी गुस्से में आ गया. परवेज अपने आप को बहुत बड़ा अपराधी समझता और बताता था.गिरफ्तार अपराधियों का अच्छा खासा अपराधिक इतिहास है. इसमे परवेज अंसारी शाहपुर थाने का गैंगेस्टर होने के साथ 16 मुकदमे दर्ज हैं. वही दूसरे अपराधी मनोज सोनकर के ऊपर पास्को सहित चार मुकदमे दर्ज हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज