अपना शहर चुनें

States

गोरखपुर: कोरोना वैक्सीन के नाम पर ठगी के लिए जालसाज हुए सक्रिय, ऐसे लगा रहे चूना

कोरोना वैक्सीन के नाम पर ठगी करने वाले जालसाज एक्टिव
कोरोना वैक्सीन के नाम पर ठगी करने वाले जालसाज एक्टिव

Gorakhpur News: जालसाज लोगों को फोन कर वैक्सीन लगाने के लिए रजिस्ट्रेशन कराने की बात कहते हैं. और फिर उनसे आधार कार्ड का नम्बर फोन पर पूछते हैं. फिर ओटीपी मांगते हैं. जैसे ही व्यक्ति ओटीपी देता है. उसके खाते से पैसे गायब कर देते हैं,

  • Share this:
गोरखपुर. कोरोना की महामारी (COVID-19 Pandemic) से बचाने के लिए एक तरफ सरकार वैक्सीन लगाने की प्रक्रिया में जुटी हुई है. तो वहीं जालसाजों (Thugs) के लिए ये आपदा भी अवसर में तब्दील हो गया है. कुछ जालसाज वैक्सीन (Vaccine) लगाने के नाम पर ठगी करने की कोशिश कर रहे हैं. गोरखपुर (Gorakhpur) में कोरोना की वैक्सीन लगाने को लेकर प्रशासन तैयारी कर रहा है. सिरिंज मंगाई जा रही है. वैक्सीन रखने के लिए अलग कमरे बनाये जा रहे हैं, डीप फ्रिजर मांगाये जा रहे हैं तो वहीं कुछ जालसाल इस आपदा में अवसर तलाशते हुए लोगों के खातों से रुपये गायब कर दे रहे हैं. जालसाज लोगों को फोन कर वैक्सीन लगाने के लिए रजिस्ट्रेशन कराने की बात कहते हैं. और फिर उनसे आधार कार्ड का नम्बर फोन पर पूछते हैं. फिर ओटीपी मांगते हैं. जैसे ही व्यक्ति ओटीपी देता है. उसके खाते से पैसे गायब कर देते हैं,

सीएमओ एसके तिवारी का कहना है कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा वैक्सीन लगाने के लिए आम आदमी का अभी रजिस्ट्रेशन नहीं किया जा रहा है. वैक्सीन आने के बाद पहले चरण में स्वास्थ्य विभाग के लोगों को वैक्सीन लगाई जायेगी. अगर इस तरह की कोई मांग करता है तो वो पूरी तरह से फर्जी है  फोन कॉल के जरिए ऑनलाइन ठगी के मामले में एडीजी दावा शेरपा भी सख्त हो गये हैं. उन्होने जोन के सभी एसपी को निर्देश दिया है कि वो लोगों को जागरूक करें। साथ ही साइबर सेल लोगों की मदद के लिए आवश्यक कार्रवाई करें. इसी के साथ वैक्सीन आने के बाद उसकी सुरक्षा को लेकर भी पुलिस प्रशासन को तैयारियां तेज करने के निर्देश एडीजी जोन ने दिये.

पुलिस ने लोगों को दी सतर्क रहने की सलाह 



उन्होंने कहा कि आपदा में अवसर तलाश रहे जालसाजों से सावधान रहने की जरूरत है. अगर कोई भी व्यक्ति फोन पर वैक्सीन लगाने के लिए आधार नम्बर या फिर बैंक एकाउंट नम्बर या फिर एटीएम नम्बर और ओटीपी मांगे तो बिलकुल भी न दें. नहीं तो आपके खाते से पैसे गायब हो जायेंगे. अभी स्वास्थ्य विभाग वैक्सीन लगाने के लिए किसी भी तरह का कोई भी रजिस्ट्रेशन नहीं कर रहा है. सिर्फ स्वास्थ्य विभाग के लोगों का पंजीकरण प्रामाणिक सूची के आधार पर किया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज