गुरु पूर्णिमा पर दिखा कोरोना का असर, गोरक्षनाथ मंदिर में टूटी वर्षों पुरानी परंपरा

गुरू पूर्णिमा पर छाया कोरोना का खतरा (file photo)
गुरू पूर्णिमा पर छाया कोरोना का खतरा (file photo)

महंत योगी आदित्यनाथ (Mahant Yogi Adityanath) अपने शिष्यों को दूर से ही आशीर्वाद देंगे. कोरोना की इस संकट काल में गोरक्षनाथ मंदिर में कोरोना प्रोटोकाल का पालन किया जा रहा है.

  • Share this:
गोरखपुर. गुरु पूर्णिमा (Guru Purnima) के अवसर पर वर्षों से चली आ रही परंपरा पर कोरोना (coronavirus) के कारण ब्रेक लग गया है. गोरक्षनाथ मंदिर में हजारों की संख्या में श्रद्धालु भगवान गोरक्षनाथ के दर्शन पूजन कर महंत योगी आदित्यनाथ (Mahant Yogi Adityanath) को टीका लगाकर चरण वंदन करते थे. लेकिन इस बार मंदिर प्रबंधन ने श्रद्धालुओं से अपील की है कि वो मंदिर न आयें अपने घर पर रह कर गुरु पूर्णिमा मनाएंगे. गुरुपूर्णिमा के अवसर पर महंत योगी आदित्यनाथ ने श्रद्धालुओं के सुखमय जीवन का आशीर्वाद दिया. रविवार सुबह गोरक्षनाथ मंदिर में प्रधान पुजारी योगी कमलनाथ ने पूरे विधि विधान के साथ अनुष्ठान किया. सुबह श्रीनाथजी गुरू गोरखनाथ के पूजन के बाद नाथ संप्रदाय के योगियों द्वारा बनाये गये विशेष प्रसाद रोट का भोग लगाया.

इसके बाद नाथ योगियों के समाधि स्थल और देव विग्रहों की पूजा की गयी. नाथ पंथ के जितने योगी भी योगी मंदिर में मौजूद हैं वो सब अपने गुरुओं से आशीर्वाद लिए. गोरक्षपीठाधीश्वर योगी आदित्यनाथ दोपहर बाद गोरखपुर पहुंचेंगे और सबसे पहले वो भगवान गोरखनाथ के दर्शनपूजन कर उनका आशीर्वाद लेंगे और फिर उसके बाद वो अपने गुरु महंत अवेद्यानाथ की समाधी पर जाकर विशेष पूजा अर्चन करेंगे फिर अपने दादा गुरु महंत दिग्विजयनाथ का आशीर्वाद लेंगे. मंदिर के अपने पूजा कक्ष में पूजन अर्चन करेंगे.

Kanpur Shootout: विकास दुबे के लखनऊ आवास पर बुलडोजर चलाने की तैयारी में योगी सरकार



इस बार कोई भी श्रद्धालु टीका नहीं लगा पायेगा. महंत योगी आदित्यनाथ अपने शिष्यों को दूर से ही आशीर्वाद देंगे. कोरोना की इस संकट काल में गोरक्षनाथ मंदिर में कोरोना प्रोटोकाल का पालन किया जा रहा है. पिछले सालों तक गुरु पूर्णिमा के मौके पर देश के कोने कोने से नाथ पंथ के योगी गोरक्षनाथ मंदिर आते थे और अपने गुरु योगी आदित्यनाथ का तिलकोत्सव करते थे, साथ ही गोरखपुर और आस पास रहने वाले लोग भी बड़ी संख्या में तिलकोत्सव कार्यक्रम में भाग लेते थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज