होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /Holi 2023: गोरखपुर में बाबा के बुलडोजर की धूम, बच्चों को खूब पसंद आ रही ये पिचकारी

Holi 2023: गोरखपुर में बाबा के बुलडोजर की धूम, बच्चों को खूब पसंद आ रही ये पिचकारी

Gorakhpur में सीएम योगी के बुलडोजर की धूम इस बार पिचकारियों के बीच देखने को मिल रही है. आलम यह है कि बच्चों को बस बुलडो ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट: अभिषेक सिंह

गोरखपुर: होली पर इस बार बुलडोजर बाबा वाली पिचकारी गोरखपुर में खूब धूम मचा रही है. बुलडोजर समेत मोदी और योगी वाली पिचकारी का कारोबार इस बार पूरे पूर्वांचल में करीब 70 लाख रुपये का हुआ है. गोरखपुर के घंटाघर स्थित पांडेय हाता मार्केट से करीब 50 हजार बुलडोजर पिचकारी की बिक्री हुई. साथ ही बाजार में इस बार योगी और मोदी की टी शर्ट और मुखौटे की मांग अधिक है. होली का बाजार रंग और पिचकारियों से भरा हुआ है. इस बार लोग चाइनीज पिचकारियों की जगह भारतीय पिचकारियों को ज्यादा पसंद कर रहे हैं.

बुलडोजर बाबा पिचकारी की डिमांड बाजार में सबसे अधिक है. इसकी बिक्री 300 से 600 रुपये तक की हो रही है. खिलौने वाले पिचकारियों की कीमत 40 से 500 रुपये तक है और प्रेशर पिचकारी की कीमत 200 से 1000 के बीच है. मोदी योगी की टी शर्ट 100 से 150 तक बिक रही है. योगी जटा, मलिंगा और महिलाओं की विंग 100 से 200 रुपये में है. बाजार में हर्बल रंगों की मांग भी इस बार अधिक है. पिचकारी व्यापारी गुड्डू ने बताया कि होली से पहले ही 50 हजार बुलडोजर बाबा पिचकारी बिक गई. लोग अभी भी उसी पिचकारी की मांग कर रहे हैं. नए ऑर्डर दिए गए हैं.

आपके शहर से (लखनऊ)

15 करोड़ तक हुई बिक्री
इस बार बाजार में होली में खरीदारी बूम पर है. पिछले साल 4 करोड़ रुपये तक बाजार सिमट गया था. मगर, इस बार थोक व्यापारियों ने करीब 15 करोड़ रुपये का होली स्पेशल सामान बेच दिया है. पिछले साल के मुकाबले इस बार इन सामान की मांग में 80% का उछाल आया है. गोरखपुर के घंटाघर समेत पाण्डेय हाता, असुरन, गोलघर, शास्त्री चौक और गोरखनाथ के मार्केट में 100 रुपये से लेकर 250 रुपये तक के स्वदेशी पापड़ बिक रहे हैं. वहीं, गुलाल भी 50 रुपए से लेकर 900 रुपये तक में मिल रहे हैं.

विधानसभा चुनाव से ही बुलडोजर काफी ट्रेंड पर
गोरखपुर घंटाघर के व्यापारी लालबाबू ने बताया कि पिछले साल हुए विधानसभा चुनाव से ही बुलडोजर काफी ट्रेंड पर रहा है .इसको देखते हुए उन्होंने दिल्ली में बुलडोजर पिचकारी बनाने का ऑर्डर दे दिया था. जैसे ही उन्होंने मार्केट में इसे रखा, लोगों ने हाथों-हाथ बिना किसी मोलभाव के खरीदना शुरू कर दिया.

बुलडोजर पिचकारी लेने की होड़
शुभम प्रजापति ने कहा कि पूरे मार्केट में बुलडोजर पिचकारी खोज लिया मिल नहीं रहा है. हम बुलडोजर पिचकारी लेने आए थे. मजबूरी में अन्य पिचकारी लेना पड़ा. गुड्डू ने बताया की बच्चों के लिए बुलडोजर पिचकारी लेंगे क्योंकि बाबा जिस तरह अपराधियों पर बुलडोजर चला रहे हैं, हमारे बच्चे की डिमांड बुलडोजर पिचकारी की है.

Tags: Bulldozer Baba, CM Yogi Adityanath, Gorakhpur news, UP news

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें