गोरखपुर: मारपीट का केस दर्ज होने से नाराज जूनियर डॉक्टर ने किया हड़ताल

बीआरडी में एमबीबीएस और पीजी के पांच सौ छात्र हॉस्टल से निकल कर प्राचार्य कार्यालय पहुंच गए. छात्र हाथों में पोस्टर लिए हुए थे.

News18 Uttar Pradesh
Updated: September 18, 2018, 1:34 PM IST
गोरखपुर: मारपीट का केस दर्ज होने से नाराज जूनियर डॉक्टर ने किया हड़ताल
धरने पर बैठे जूनियर डॉक्टर
News18 Uttar Pradesh
Updated: September 18, 2018, 1:34 PM IST
गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज के पांच नामजद रेजिडेंट डॉक्टरों समेत कुल 13 के खिलाफ मरीज और उसके साथ आए तीमारदारों के साथ मारपीट के मामले में केस दर्ज होने बाद जूनियर डॉक्टर हड़ताल पर चले गए. नाराज जूनियर डॉक्टरों ने इमरजेंसी ड्यूटी नहीं की. जिससे ट्रॉमा सेंटर में नए मरीजों की भर्ती बंद हो गई. सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने मामले को शांत कराने की कोशिश की, लेकिन कोई ठोस नतीजा नहीं निकला.

हड़ताल के बाद सैंकड़ों मरीज बगैर इलाज के लौट गए. दर्जनों गंभीर मरीजों को लेकर तीमारदार दूसरे अस्पताल चले गए. ओपीडी भी ठप रही. बीआरडी में एमबीबीएस और पीजी के पांच सौ छात्र हॉस्टल से निकल कर प्राचार्य कार्यालय पहुंच गए. छात्र हाथों में पोस्टर लिए हुए थे. हड़ताली जूनियर छात्र वहीं धरने पर बैठ गए. इसकी अगुआई रेजीडेंट डॉक्टर एसोसिएशन ने की. हड़ताली डॉक्टरों के समर्थन में वार्ड में ड्यूटी कर रहे जूनियर डॉक्टर भी शामिल हो गए.

जूनियर डॉक्टरों ने कॉलेज प्रशासन के सामने सुरक्षा के इंतजाम करने और डॉक्टरों के खिलाफ दर्ज मुकदमे को वापस लेने की मांग की. रेजीडेंट डॉक्टर एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ. सूर्यकांत ओझा ने कहा कि कॉलेज प्रशासन की लापरवाही से लगातार 48 घंटे ड्यूटी करने वाला डॉक्टर मार खाने को मजबूर है. उसके सुरक्षा के लिए कॉलेज प्रशासन कोई उपाय नहीं कर रहा है. डॉक्टर अपने पाकेट-मनी से रुपए जुटाकर सुरक्षागार्ड रखने को मजबूर हैं. इस मामले में बीआरडी मेडिकल काॅलेज के प्रिंसिपल कुछ भी बयान देने से बचते नजर आए.

(रिपोर्ट: अहमद अली/गोरखपुर)

ये भी पढ़ें:

वाराणसी में बोले नरेंद्र मोदी- चार साल में ही काशी में दिखने लगा बदलाव

योगी आदित्यनाथ के राज में 'नाथ' होकर भी अनाथ हैं, गुरु गोरखनाथ के 'चेले'
Loading...

पीएम मोदी को मोहर्रम में लखनऊ आने का न्यौता देंगे शिया धर्मगुरु मौलाना कल्बे जव्वाद

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गोरखपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 18, 2018, 1:31 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...