Gorakhpur News: माफिया सुधीर सिंह और प्रदीप सिंह पर बड़ी कार्रवाई, लग्‍जरी गाड़ियां समेत करोड़ों की प्रॉपर्टी जब्त

माफिया सुधीर सिंह और प्रदीप सिंह पर बड़ी कार्रवाई (File photo)

माफिया सुधीर सिंह और प्रदीप सिंह पर बड़ी कार्रवाई (File photo)

Big Action Against Criminal, Land Mafia: प्रदीप सिंह वर्ष 1996 में पिपरौली के तत्कालीन ब्लॉक प्रमुख सुरेंद्र सिंह की हत्या के बाद सुर्खियों में आया था. आज सहजनवां एसडीएम की अगुवाई में हुई कार्रवाई.

  • Share this:

गोरखपुर. सीएम सिटी गोरखपुर (Gorakhpur) में माफिया सुधीर सिंह (Mafia Sudhir Singh) और प्रदीप सिंह (Pradeep Singh) पर प्रशासन ने शिकंजा कसते हुए अपराध से अर्जित संपत्ति को जब्त करने की कार्रवाई की है. माफिया के खिलाफ यह बड़ी कार्रवाई सहजनवां एसडीएम की अगुवाई में गीडा थाने की पुलिस ने की. प्रशासनिक टीम (Administrative Team) ने माफिया प्रदीप सिंह की गीडा इलाके के मल्हीपुर गांव में स्थित करीब छह करोड़ की खेती की बेशकीमती जमीन को जब्त कर लिया है. साथ ही जमीन को सरकार के नाम दस्तावेज में दर्ज कर दिया गया है.

इतना ही नहीं प्रदीप सिंह के साथ उसकी पत्नी और मां के नाम पर तीन लग्जरी वाहन और तीन मकान को चिह्नित किया गया है. इसे भी जल्द ही जब्त कर लिया जाएगा. गौरतलब है कि पुलिस ने कुछ दिनों पहले ही प्रदीप को गैंगस्टर में गिरफ्तार करके जेल भेजा था.

अपराध से अर्जित संपत्ति का ब्योरा जुटाया और किया जब्त

डीएम के आदेश पर तहसील प्रशासन सहजनवां ने प्रदीप सिंह की अपराध के दम पर अर्जित संपत्ति का ब्योरा जुटाया है. इसमें खेती योग्य भूमि को चिह्नित किया गया है. तीन गाड़ी, तीन मकान भी सामने आए हैं. इन सबको भी जब्त किया जाना है. इसी क्रम में प्रशासनिक टीम ने कार्रवाई शुरू कर दी है. उसकी खेती योग्य भूमि को जब्त कर लिया गया है और अन्य पर जल्द कार्रवाई की जाएगी.
ब्लॉक प्रमुख की हत्या के बाद सुर्खियों में आया था प्रदीप

प्रदीप सिंह वर्ष 1996 में पिपरौली के तत्कालीन ब्लॉक प्रमुख सुरेंद्र सिंह की हत्या के बाद सुर्खियों में आया था. जिला परिषद कार्यालय के गेट पर दिनदहाड़े हत्या करने के बाद प्रदीप उनके गनर की स्टेनगन लूटकर फरार हो गया था. उस समय के कुख्यात बदमाश परवेज टांडा के साथ मिलकर प्रदीप सिंह ने इस घटना को अंजाम दिया था. बाद में परवेज टांडा ने नेपाल में अपना ठिकाना बना लिया था. नेपाल में ही उसकी हत्या हो गई थी. शातिर माफिया के तौर पर शुमार प्रदीप सिंह पर 54 मुकदमे दर्ज हैं.

इसके साथ ही संगठित अपराधियों पर नकेस कसने की कड़ी में पुलिस ने बीते 21 मई को बहन की शादी में पहुंचे जिला बदर माफिया सुधीर सिंह की दो लग्जरी वाहन को सीज किया है. हालांकि पुलिस माफिया सुधीर सिंह को गिरफ्तार करने की फिराक में गयी थी, लेकिन पुलिस टीम अरेस्ट स्टे देखकर लौट आई.



चचेरी बहन की शादी में पहुंचा था सुधीर

बताया जा रहा है कि बीते 21 मई को सहजनवां इलाके के कालेसर स्थित माफिया सुधीर के आवास पर चाचा की बेटी की शादी थी. भारी फोर्स के साथ पुलिस वहां गिरफ्तारी के लिए पहुंची, लेकिन माफिया के पास हाईकोर्ट का अरेस्ट स्टे होने की वजह से उसे गिरफ्तार नहीं किया जा सका. एसएसपी दिनेश कुमार प्रभु ने बताया कि सुधीर सिंह की दो गाड़ियों को धारा 4/1 के तहत सहजनवां थाने में जब्त किया गया है. उसके खिलाफ आगे की कार्रवाई की तैयारी की जा रही है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज