Home /News /uttar-pradesh /

Mission 2022: टैक्ट्रर रैली से किसानों को साधने में जुटी भाजपा, 16 नवंबर को मऊ से होगी शुरुआत

Mission 2022: टैक्ट्रर रैली से किसानों को साधने में जुटी भाजपा, 16 नवंबर को मऊ से होगी शुरुआत

16 नवंबर से मऊ से शुरू होगी बीजेपी की ट्रैक्टर रैली.

16 नवंबर से मऊ से शुरू होगी बीजेपी की ट्रैक्टर रैली.

BJP Tractor Rally : भाजपा किसान मोर्चा 16 नवंबर से 30 नवंबर तक पूरे प्रदेश में किसान ट्रैक्टर रैली निकालने जा रही है. किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष कामेश्वर सिंह 16 नवंबर को मऊ से इसी शुरुआत करेंगे. कामेश्वर सिंह ने कहा कि ट्रैक्टर किसानों के उन्नति, प्रगति और उत्थान का प्रतीक है, इसलिए हम ट्रैक्टर रैली निकाल रहे हैं. ट्रैक्टर रैली के माध्यम से किसानों को यह संदेश देंगे कि देश की आजादी के बाद नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली केंद्र सरकार और योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में प्रदेश की सरकार ने किसानों के हित में जितने निर्णय किए हैं, उतने अभी तक किसी सरकार ने नहीं किए.

अधिक पढ़ें ...

गोरखपुर. मिशन 2022 के मद्देनजर किसानों की नाराजगी दूर करने के लिए भाजपा के किसान मोर्चा ने कमान संभाल ली है. भाजपा किसान मोर्चा 16 नवंबर से 30 नवंबर तक पूरे प्रदेश में किसान ट्रैक्टर रैली निकालने जा रही है. किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष कामेश्वर सिंह 16 नवंबर को मऊ से इसी शुरुआत करेंगे. कामेश्वर सिंह ने कहा कि ट्रैक्टर किसानों के उन्नति, प्रगति और उत्थान का प्रतीक है, इसलिए हम ट्रैक्टर रैली निकाल रहे हैं. ट्रैक्टर रैली के माध्यम से किसानों को यह संदेश देंगे कि देश की आजादी के बाद नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली केंद्र सरकार और योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में प्रदेश की सरकार ने किसानों के हित में जितने निर्णय किए हैं, उतने अभी तक किसी सरकार ने नहीं किए.

भाकियू नेता राकेश टिकैट पर कामेश्वर सिंह ने कहा कि वे किसानों के साथ छलावा कर रहे हैं. देश और प्रदेश का किसान उन्हें गंभीरता से नहीं लेता है. वह अपने पिता महेंद्र सिंह टिकैत का नाम बेच रहे हैं. राकेश टिकैत अपने पिता के नाम पर दुकानदारी चला रहे हैं. वे तीन बार चुनाव लड़ चुके हैं और तीनों बार उन्हें मुंह की खानी पड़ी है. भाजपा के प्रत्याशी से हारे और उनकी जमानत जब्त हो गई. इस सदमे से वे उबर नहीं पा रहे हैं. इसलिए राजनीति कर रहे हैं. पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम योगी आदित्यनाथ को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ें : Bareilly: विकलांग नाबालिग को पुलिस जवानों ने लाठी से पीटा, जख्मी किशोर अस्पताल में भर्ती

कामेश्वर सिंह ने कहा कि 4 वर्षों में गन्ना मूल्य का रिकॉर्ड भुगतान, बंद चीनी मिलों को चलाना और नई चीनी मिलें लगाकर सीएम योगी ने ऐतिहासिक कार्य किया है. 2017 में भाजपा सरकार बनने के बाद पहली कैबिनेट बैठक में ही योगी ने लगभग 86 लाख किसानों के 36 हजार करोड़ के कृषि ऋण माफ किए. साथ ही साथ बिजली का सरचार्ज भी माफ किया. योगी आदित्यनाथ ने डार्क जोन में बंद बिजली के कनेक्शन को पुनः खोलकर लाखों किसानों के हित में बहुत बड़ा निर्णय किया है.

इसे भी पढ़ें : अलीगढ़ में दिनदहाड़े बड़ी वारदात, बाइक सवार आढ़तिया से 22 लाख लूटे, पुलिस को दिख रही कुछ और कहानी

4 वर्षों में योगी सरकार ने 3 नई चीनी मिलें लगाईं, 14 नए डिस्टलरी खोले और 20 चीनी मिलों की क्षमता वृद्धि की. 4 वर्षों में ही सरकार के प्रयास के कारण गन्ने की खेती का क्षेत्रफल लगभग 20 लाख हेक्टेयर से बढ़कर 28 लाख हेक्टेयर हो गया. प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, कृषक दुर्घटना बीमा योजना के कारण किसानों के परिवारों को बहुत सहायता मिल रही है. उत्तर प्रदेश में किसानों के खेतों की मिट्टी की गुणवत्ता की जांच के लिए 4 करोड़ किसानों को मृदा हेल्थ कार्ड जारी किया गया है, जिसका प्रयोग करके किसानों ने अपने उत्पादन क्षमता में 5 से 6% की वृद्धि की है.

खेलें यूपी क्विज

उत्तर प्रदेश में एग्रीकल्चर इन्फ्राट्रक्चर फंड योजना के अंतर्गत गोदामों व कोल्ड स्टोरेज का जाल बिछाया जा रहा है, जिससे उपज का वाजिब दाम मिलेगा और यह किसानों की उपज के लिए सुरक्षा कवच का कार्य करेगा. 220 नए मंडी स्थल निर्मित किए गए हैं. 27 मंडियों का आधुनिकीकरण हुआ, 27 मंडियों में कोल्ड चेंबर और राइपनिंग चेंबर का निर्माण किया गया है. अमरोहा वाराणसी में मंडी परिषद द्वारा इंटीग्रेटेड पैक हाउस की स्वीकृति दी गई है.

Tags: BJP Campaign, Tractor Rally, UP Assembly Election 2022

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर