लाइव टीवी

योगी सरकार ने गोरखपुर के नगर आयुक्त पीपी सिंह को किया सस्पेंड

News18 Uttar Pradesh
Updated: October 27, 2018, 7:11 PM IST
योगी सरकार ने गोरखपुर के नगर आयुक्त पीपी सिंह को किया सस्पेंड
नगर आयुक्त प्रेम प्रकाश

इस मामले की जांच कमिश्नर को सौंपी गई है. नगर आयुक्त पर बिना काम कराए ठेकेदारों को लाखों रुपये पेमेंट करने का भी आरोप लगा है.

  • Share this:
गोरखपुर शहर की सफाई-व्यवस्था में सुधार न होने और सफाई कर्मियों के आए दिन होते उग्र आंदोलन से नाराज सीएम योगी आदित्यनाथ ने नगर आयुक्त प्रेम प्रकाश सिंह को निलंबित कर दिया है. वहीं, नगर आयुक्त को निलंबित करने के साथ उनका चार्ज डीएम को दे दिया गया है. इस मामले की जांच कमिश्नर को सौंपी गई है. नगर आयुक्त पर बिना काम कराए ठेकेदारों को लाखों रुपए पेमेंट करने का भी आरोप लगा है.

नगर आयुक्त प्रेम प्रकाश पर आरोप लगा है कि वह सफाई कर्मियों के मानदेय भुगतान में हीलाहवाली करते थे, जिससे सफाई कर्मी नाराज होकर शहर में कई जगह कूड़ा फेंक कर प्रदर्शन कर रहे थे. बता दें कि शहर की सफाई-व्यवस्था सिर्फ दो एजेंसियों के हवाले की गई थी. जिन 35 वार्डों में 1365 कर्मचारी ठेके पर रखे गए थे, वहां पर नगर निगम के स्थाई सफाई कर्मी तैनात कर दिए गए, जिससे ठेके पर रखे गए 207 सफाई कर्मचारियों की कोई सुनवाई नहीं हो रही थी, जिससे हंगामा बढ़ गया था.

यही नहीं, नवरात्र में सीएम योगी शहर में थे और नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना का दौरा हो गया, जिसमें उन्होंने नखास चौक पर सफाई में कमी पाते ही तीन अधिकारियों को सस्पेंड किया था. अभी कुछ दिनों पहले ही नगर आयुक्त प्रेम प्रकाश को  पीसीएस से आईएएस कैडर मिला था.

(रिपोर्ट: रामगोपाल द्विवेदी)

ये भी पढ़ें:

आईपीएस बेटे को सलामी देंगे सिपाही पिता, कहा- मेरे लिए गर्व की बात

अलीगढ़: एक्सप्रेस-वे पर भीषण सड़क हादसा, 4 यात्रियों की मौत
Loading...

फतेहपुर: मॉर्निंग वॉक पर निकले प्रॉपर्टी डीलर की गोली मारकर हत्या

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गोरखपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 27, 2018, 1:28 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...