लाइव टीवी

वामपंथ की तरह कांग्रेस और सपा को भी जनता दफन कर देगी: CM योगी
Gorakhpur News in Hindi

भाषा
Updated: January 20, 2020, 5:55 AM IST
वामपंथ की तरह कांग्रेस और सपा को भी जनता दफन कर देगी: CM योगी
योगी ने कहा कि आजादी के बाद देश में वामपंथी दलों ने लोगों को गुमराह किया. (फाइल फोटो)

सीएम योगी (CM Yogi) ने कहा कि सीएए से कांग्रेस को अपने पाप का पश्चाताप करने का मौका मिला था, लेकिन वह यहां भी चूक गई.

  • Share this:



गोरखपुर. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने रविवार को कहा कि वामपंथ की तरह कांग्रेस, सपा (SP) तथा अन्य विपक्षी दल भी अपने अस्तित्व की अंतिम पायदान पर हैं और जनता उन्हें भी दफन कर देगी. योगी ने यहां संशोधित नागरिकता कानून (CAA) के समर्थन में आयोजित रैली को संबोधित करते हुए कहा कि इस कानून के खिलाफ हाल में हुए हिंसक प्रदर्शन को सपा, कांग्रेस तथा अन्य विपक्षी दलों ने वित्त पोषित किया था. उन्होंने कहा कि आजादी के बाद देश में वामपंथी दलों ने लोगों को गुमराह करने के लिए बहुत झूठ बोला और इस समय यही काम कांग्रेस, समाजवादी पार्टी और अन्य विपक्षी दल कर रहे हैं. योगी ने कहा कि जिस तरह से देश की जनता ने वामपंथ के झूठ को समझते हुए हमेशा के लिए उन्हें दफन कर दिया था, उसी तर्ज पर ये दल भी अपने अंतिम राजनीतिक पायदान पर खड़े हैं.

मुख्यमंत्री ने कहा कि नागरिकता कानून से कांग्रेस को अपने पाप का पश्चाताप करने का मौका मिला था, लेकिन वह यहां भी चूक गई. इस कानून के समर्थन में हम सबको पोस्टकार्ड लिखकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अभिनन्दन करना चाहिए. उन्होंने कहा कि हमारा दायित्व बनता है कि हम सबको समझाएं की सीएए नागरिकता लेने का नहीं बल्कि देने का कानून है. भारत के किसी भी नागरिक के खिलाफ ये कानून नहीं है. ये उन घुसपैठियों के खिलाफ है, जो आतंकवाद, उग्रवाद और अलगाववाद पैदा करते हैं.

चीरहरण किया जा रहा है
योगी ने कहा कि कानून के विषय में दुष्प्रचार और आगजनी करके देश का चीरहरण किया जा रहा है. ये सब महिलाओं को आगे करके किया जा रहा है. हम इस माहौल में मौन नहीं रह सकते. जनजन तक हम इसे लेकर जाएं, यह हमारा संवैधानिक दायित्व है.
ये भी पढ़ें-  

सहरिया वर्ग को सीएम गहलोत ने दी बड़ी सौगात, सरकारी नौकरियों के अवसर बढ़ाए

युवती साथ रोमांस करते पत्नी ने रंगेहाथ पकड़ा, पहले बनाई VIDEO फिर...


News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गोरखपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 20, 2020, 3:22 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर