लाइव टीवी

जहां से शुरू हुई थी PM-किसान स्कीम वहां वेरीफिकेशन में उलझे एक लाख किसान
Gorakhpur News in Hindi

ओम प्रकाश | News18Hindi
Updated: February 20, 2020, 12:34 PM IST
जहां से शुरू हुई थी PM-किसान स्कीम वहां वेरीफिकेशन में उलझे एक लाख किसान
प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि स्कीम का दूसरा चरण शुरू हो चुका है

योगी आदित्यनाथ के शहर गोरखपुर में 5.5 लाख किसान परिवार, वेरीफिकेशन के इंतजार में 1 लाख लोग, 30 दिसंबर 2019 के बाद आधार वेरीफिकेशन अनिवार्य होने के बाद काम स्लो

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 20, 2020, 12:34 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश के 6.22 करोड़ किसानों को पीएम-किसान सम्मान निधि स्कीम (Pradhan Mantri kisan Samman Nidhi Scheme) की तीनों किश्त का लाभ मिल चुका है. लेकिन वहां क्या हो रहा है जहां से किसानों की सबसे बड़ी स्कीम की शुरुआत हुई थी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने औपचारिक तौर पर 24 फरवरी 2019 को यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के शहर गोरखपुर से इसकी शुरुआत की थी. यहां पर अब तक 4.11 लाख किसानों को फायदा मिल चुका है. जबकि एक लाख लोगों के अप्लीकेशन वेरीफिकेशन में अटके हुए हैं.

इसी जिले से आजादी के बाद पहली बार किसी सरकार ने किसानों के बैंक खातों में डायरेक्ट पैसा भेजने की शुरुआत की थी. ऐसा इसलिए किया गया ताकि किसानों को भेजी जाने वाली रकम में भ्रष्टाचार का दीमक न लगे. उसे अधिकारी और नेता सफाचट न कर जाएं. देश के सभी किसान परिवारों को इस योजना के तहत खेती करने के लिए 6000-6000 रुपये सीधे उनके बैंक खाते में भेजे जा रहे हैं.

जिले में कितने किसानों को पूरा लाभ



केंद्रीय कृषि मंत्रालय की रिपोर्ट के मुताबिक 18 फरवरी तक गोरखपुर में इस स्कीम के तीनों किश्त का फायदा पाने वालों की संख्या 2,81,528 है जबकि 3,78,186 किसानों को पहली, 3,30,505 लोगों को दूसरी किश्त का लाभ मिला है. जबकि दूसरे चरण की पहली किश्त 1,11,989 लोगों को मिली है. जिला कृषि अधिकारी अरविंद चौधरी का कहना है कि करीब एक लाख किसानों का मामला वेरीफिकेशन प्रोसेस में है.



Pradhan Mantri kisan Samman Nidhi Scheme, pm kisan scheme beneficiary in gorakhpur, yogi adityanath, farmer, ministry of agriculture, modi government, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि स्कीम, गोरखपुर में किसान सम्मान निधि के लाभार्थी, योगी आदित्यनाथ, किसान, कृषि मंत्रालय, मोदी सरकार
प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि स्कीम की गोरखपुर में शुरुआत करते पीएम मोदी (File Photo)


दूसरी ओर, गोरखपुर के वरिष्ठ पत्रकार टीपी शाही का कहना है कि कोशिश ये है कि फर्जी लोगों को इसका लाभ न मिले और जो सही मायने में किसान हैं उन्हें हर हाल में पैसा मिले. उनका कहना है कि वैसे यूपी सबसे ने इस योजना के तहत अब तक 11,680 करोड़ रुपये का लाभ उठाकर देश में पहले नंबर पर है.

किसे मिलेंगे 6000 रुपये और किसे नहीं 

>>एमपी, एमएलए, मंत्री और मेयर को भी लाभ नहीं दिया जाएगा, भले ही वो किसानी भी करते हों.

>>केंद्र या राज्य सरकार में अधिकारी एवं 10 हजार से अधिक पेंशन पाने वाले किसानों को लाभ नहीं.

>>पेशेवर, डॉक्टर, इंजीनियर, सीए, वकील, आर्किटेक्ट, जो कहीं खेती भी करता हो उसे लाभ नहीं मिलेगा.

>>पिछले वित्तीय वर्ष में इनकम टैक्स का भुगतान करने वाले किसान इस लाभ से वंचित होंगे.

>>हालांकि, केंद्र और राज्य सरकार के मल्टी टास्किंग स्टाफ/चतुर्थ श्रेणी/समूह डी कर्मचारियों को फायदा मिलेगा.

ये भी पढ़ें:  

मोदी सरकार की स्वायल हेल्थ कार्ड स्कीम से किसानों को क्या मिला?

20 लाख किसानों को मिलेंगे 36 हजार रुपये सालाना, अभी सिर्फ 5 करोड़ किसान ही उठा सकते हैं PMKMY का फायदा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गोरखपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 20, 2020, 12:13 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading