Home /News /uttar-pradesh /

गोरखपुरः छापेमारी में पुलिस ने प्रिंटिंग प्रेस से जब्त किए ब्रांडेड शराब के नकली रैपर

गोरखपुरः छापेमारी में पुलिस ने प्रिंटिंग प्रेस से जब्त किए ब्रांडेड शराब के नकली रैपर

भारी मात्रा में नकली शराब जब्त

भारी मात्रा में नकली शराब जब्त

एसपी सिटी विनय कुमार सिंह के निर्देश पर राजघाट थानेदार आशुतोष सिंह ने छापेमारी को अंजाम दिया और मामले में आरोपी दोनों प्रिंटिंग प्रेस मालिकों को फर्जी रैपर के साथ गिरफ्तार कर लिया

    गोरखपुर पुलिस ने कानपुर हादसे से सबक लेते हुए मंगलवार को दो प्रिंटिंग प्रेस पर छापेमारी कर भारी मात्रा में ब्रांडेड शराब कंपनी के नकली रैपर बरामद किया है. हैरानी की बात यह है कि बरामद नकली रैपरों पर बारकोड डालकर उन्हें हूबहू असली की तरह बनाया गया था. छापेमारी के दौरान पुलिस ने फर्जीवाड़े के धंधे में लिप्त दो प्रिंटिंग प्रेस के मालिकों को भी गिरफ्तार किया है. बताया जा रहा है कि लंबे समय से प्रिंटिंग प्रेस नकली रैपर छापने का धंधे में लिप्त थे.

    रिपोर्ट के मुताबिक एक शराब कंपनी के कर्मचारी की शिकायत पर पुलिस ने छापेमारी को अंजाम दिया. शिकायतकर्ता रवि सिंह एक शराब कंपनी में कर्मचारी हैं. सूचना के मुताबिक कई दिनों से गोरखपुर जिले में ब्रांडेड शराब के रैपर का इस्तेमाल करके नकली शराब बनाने की सूचना मिल रही थी और जैसे ही नकली रैपर छापने वालों का पता लगा मामले की सूचना पुलिस अधीक्षक को दी गई.

    एसपी सिटी विनय कुमार सिंह के निर्देश पर राजघाट थानेदार आशुतोष सिंह ने छापेमारी को अंजाम दिया और मामले में आरोपी दोनों प्रिंटिंग प्रेस मालिकों को फर्जी रैपर के साथ गिरफ्तार कर लिया. बताया जाता है बरामद नकली रैपर का इस्तेमाल कर नकली शराब बनाने में किया जा रहा था.

    एसपी सिटी ने फर्जीवाड़े का भंडाफोड़ करते हुए बताया कि दोनों प्रिंटिंग प्रेस मालिकों की गिरफ्तारी के पास से भारी मात्रा में फर्जी रैपर बरामद किया गया है. एसपी सिटी ने बताया कि प्रिंटिंग प्रेस के मालिकों से पूछताछ कर नकली शराब के धंधे के रैकेट से जुड़े अन्य सदस्यों के बारे में जानकारी हासिल की जा रही है. एसपी सिटी के मुताबिक रैपर छापने वालों के तार नकली शराब के कारोबारियों से जुड़े हैं और उनके नेटवर्क के बारे में पता लगाया जा रहा है.

    आरोपियों की पहचान राजघाट क्षेत्र के मिर्जापुर निवासी वेद प्रकाश और कोतवाली क्षेत्र के दीवान बाजार निवासी अभिप्राय अग्रवाल के रूप में हुई है. पूछताछ कर पुलिस यह पता लगाने का प्रयास कर रही है कि नकली शराब का रैपर वो किसको सप्लाई करते थे. यह जानकारी हाथ लगने के बाद पुलिस ने नकली शराब के बड़े कारोबार का पर्दाफाश करने का संकेत दिया है.

    Tags: Illegal alcohol

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर