गोरखपुर हादसा: ऑक्सीजन सप्लाई करने वाली कंपनी का मालिक गिरफ्तार

Anil Singh | ETV UP/Uttarakhand
Updated: September 17, 2017, 12:18 PM IST
गोरखपुर हादसा: ऑक्सीजन सप्लाई करने वाली कंपनी का मालिक गिरफ्तार
पुष्पा सेल्स के मालिक मनीष भंडारी की फाइल फोटो
Anil Singh | ETV UP/Uttarakhand
Updated: September 17, 2017, 12:18 PM IST
गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज मामले में बच्चों की मौत के मामले में पुष्पा सेल्स के मालिक मनीष भंडारी को पुलिस ने देवरिया बाईपास से गिरफ्तार कर लिया है. आरोपी मनीष भंडारी ने कोर्ट में प्रार्थना पत्र लगाकर सरेंडर करने की इजाजत मांगी थी.

बता दें कि बीआरडी मेडिकल कॉलेज में 7 से 12 अगस्त के बीच 30 बच्चों समेत 60 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी. अारोप था कि हॉस्पिटल मैनेजमेंट और पुष्पा सेल्स के बीच बकाये का भुगतान काे लेकर विवाद था, जिसकी वजह से कंपनी ने हॉस्पिटल को ऑक्सीजन सप्लाई बंद कर दी थी.

मौत के पीछे मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल से लेकर कई अन्य जिम्मेदार डॉक्टरों को लापरवाही का दोषी माना गया था.

सीएम योगी ने मुख्य सचिव की अध्यक्षता में जांच समिति गठित कर एक हफ्ते में रिपोर्ट मांगी थी. मामले में कई स्तरों पर अधिकारियों की उदासीनता और लापरवाही की बातें सामने आई थी. ऑक्सीजन की आपूर्ति करने वाली फर्म ने आपूर्ति रोके जाने की बात भी कही थी.

इसके बाद महानिदेशक चिकित्सा-शिक्षा डॉ. के.के. गुप्ता की तहरीर पर 23 अगस्त को पुलिस ने लखनऊ के हजरतगंज थाने में नौ लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था. जिसमें तत्कालीन प्रिंसिपल डॉ. राजीव मिश्र, उनकी पत्नी डॉ. पूर्णिमा शुक्ला, वार्ड 100 के एनएचएम के नोडल अधिकारी डॉ. कफील खान, लिपिक सुधीर पांडेय, एनेस्थिसिया के विभागाध्यक्ष डॉ. सतीश कुमार, लेखाकार संजय त्रिपाठी, गजानन जायसवाल, उदय शर्मा और मनीष भंडारी शामिल है.
First published: September 17, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर