गोरखपुर: सगे भाई, भाभी और बहन ने रची हत्या की साजिश, ऐसे हुआ खुलासा
Gorakhpur News in Hindi

गोरखपुर: सगे भाई, भाभी और बहन ने रची हत्या की साजिश, ऐसे हुआ खुलासा
सगे भाई, भाभी और बहन ने रची हत्या की साजिश

एसपी (SP North) नॉर्थ ने हत्या की वजह का खुलासा करते हुए बताया है कि राजकुमार सिंह की भाभी कुसुमलता सिंह ने अपनी मुंबई (Mumbai) की आधी जमीन अपने देवर त्रिलोकी सिंह को दे दी थी.

  • Share this:
गोरखपुर. उत्तर प्रदेश के गोरखपुर (Gorakhpur) जिले में रिश्तों के कत्ल (Murder) की एक सनसनीखेज वारदात का खुलासा हुआ है. जहां प्रॉपर्टी के विवाद में सगे भाई ने ही अपने छोटे भाई की हत्या की साजिश रच डाली. खास बात यह है कि बड़े भाई, भाभी और बहन ने मिलकर हत्या की वारदात को अंजाम दिया था. पुलिस ने राजकुमार सिंह हत्याकांड में नामजद 8 आरोपियों में से तीन हत्यारोपियों को गिरफ्तार कर हत्याकांड के खुलासे का दावा किया है. पुलिस ने अपने ही भाई की हत्या के आरोप में बड़े भाई, भाभी और बहन को गिरफ्तार किया है.

मामले का खुलासा करते हुए एसपी नॉर्थ अरविंद पाण्डेय के मुताबिक मृतक राजकुमार सिंह मुंबई में परिवार के साथ रहकर व्यवसाय करते थे. वहीं लॉकडाउन में राजघाट थाना क्षेत्र के नॉर्मल स्थित अपने ससुराल परिवार के साथ आये थे. उन्होंने बताया कि मृतक राजकुमार सिंह कुल छह भाई और तीन बहनें थीं. एसपी नॉर्थ ने हत्या की वजह का खुलासा करते हुए बताया कि राजकुमार सिंह की भाभी कुसुमलता सिंह ने अपनी मुंबई की आधी जमीन अपने देवर त्रिलोकी सिंह को दे दी थी.

जबकि आधी जमीन विजय सिंह को देने को कही थी. लेकिन जमीन के आधा टुकड़े को बाद में उन्होंने राजकुमार सिंह को दे दिया था. इसी बात को लेकर विजय सिंह अपने भाई राजकुमार से खुन्नस रखता था. वहीं बीते 10 जून को धोखे से विजय ने राजुकमार को अपने नार्मल स्थित आवास पर बुलाया था. जहां मुंबई की प्रॉपर्टी को लेकर विजय सिंह, उसकी पत्नी और बहन के साथ मौके पर मौजूद रिश्तेदारों ने पंचायत के दौरान राजकुमार पर जमीन विजय सिहं को देने का दबाब बनाया था. लेकिन राजकुमार इसके लिए राजी नहीं हुआ. और मौके पर विवाद के दौरान विजय सिंह ने अपने रिश्तेदारों के साथ मिलकर राजकुमार की हत्या कर दी.



इतना ही नहीं राजकुमार के शव को नौसढ़ स्थित एकला बंधे के पास फेंक दिया. इस मामले में मृतक राजकुमार सिंह की पत्नी ममता सिंह ने पति के भाई-बहन समेक 8 नामजद के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था.
ये भी पढे़ं:

LU के कुलपति प्रो. आलोक कुमार राय बने 'NAAC' के सदस्य, बोले- देश में शिक्षा को देंगे एक नया मॉडल
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading