Home /News /uttar-pradesh /

भाभा की वैज्ञानिक हुई लापता, भाई को भेजा सुसाइड का ईमेल

भाभा की वैज्ञानिक हुई लापता, भाई को भेजा सुसाइड का ईमेल

देश के सबसे प्रतिष्ठित भाभा रिसर्च सेंटर मुंबई अब सवालों के घेरे में आने लगे हैं.

देश के सबसे प्रतिष्ठित भाभा रिसर्च सेंटर मुंबई अब सवालों के घेरे में आने लगे हैं.

देश के सबसे प्रतिष्ठित भाभा रिसर्च सेंटर मुंबई अब सवालों के घेरे में आने लगे हैं.

देश के सबसे प्रतिष्ठित भाभा रिसर्च सेंटर मुंबई अब सवालों के घेरे में आने लगे हैं. इसका खुलासा इस संस्थान में साइंटिफिक आफिसर के पद पर तैनात महिला वैज्ञानिक बबिता सिंह के एक ईमेल से हुआ है.


बता दें, कि साइंटिफिक आफिसर बबिता सिंह ने अपने परिजनों को ईमेल भेजकर अपने सीनियर आफिसर द्वारा परेशान करने से तंग आकर ख़ुदकुशी करने की बात कही है.


हॉस्टल में लगे सीसीटीवी कैमरे में बबिता की अंतिम तस्वीर 23 जनवरी को दिन में 1 बजकर चार मिनट पर आयी है. इसके बाद से ही बबिता भाभा इंस्टिट्यूट से लापता है. यहां तक कि बबिता ने अपना मोबाइल भी कमरे में रखने के बाद कमरे को लॉक करके चाभी वार्डेन को दे दिया है.


साइंटिफिक आफिसर बबिता सिंह का ईमेल मिलने के बाद परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है. परिजन अपने होनहार बेटी के साथ अनहोनी की आशंका को लेकर सशंकित हैं.


कुशीनगर जनपद के कुबेरस्थान थाना क्षेत्र के खन्हवार गांव के साधारण किसान विजय बहादुर सिंह की तीन संतानों में सबसे छोटी बेटी बबिता प्रतिभा की धनी थी.

बबिता को पढ़ाने के लिए परिजनों ने कोई कोर-कसर नहीं छोड़ा.


हाई स्कूल से लेकर मास्टर डिग्री तक बबिता ने हमेशा स्कूल टाॅप किया. बबिता की मेहनत और परिजनों के विश्वाश का ही नतीजा रहा कि उसका चयन मुम्बई स्थित भाभा रिसर्च इंस्टीट्यूट में हो गया था.


जहां वह लो लेवल रेडिएशन रिसर्च सेक्शन के रेडियेशन बायोलॉजी एण्ड हेल्थ  साइंस डिवीजन में साइंटिफिक आफिसर के पद पर कार्यरत थी.


बबिता पिछले कुछ दिनों से अपने सीनियर आफिसरों से परेशान चल रही थी यह बात उसने अपने मां और भाई से शेयर भी किया था लेकिन परिवार में अपने विकलांग भाई और किसान पिता से बबिता खुल कर अपनी परेशानी नहीं कह पा रही थी.

बबिता के विकलांग भाई विकास की माने तो बबिता ने 15 जनवरी को ही सीनियर द्वारा परेशान करने और सुसाइड करने वाला मेल कंपोज किया था लेकिन उसे 23 तो शाम तीन बजे भेजा उसके बाद से ही बबिता का कोई पता नहीं है.


कुछ दिन पूर्व अपने भाई की शादी में गांव आई बबिता ने सीनियर द्वारा परेशान करने की बात अपनी मां से बताया था लेकिन शुद्ध रूप से गृहिणी मां अपने बेटी की परेशानी समझ नहीं पाई. सुसाइड संबंधी ईमेल मिलने के बाद बबिता की मां के होश उड़ गए हैं. अपनी लाडली बेटी के साथ किसी अनहोनी की आशंका से मां सिहर जा रही है.


देश के प्रतिष्ठित संस्थान में इस तरह के कृत्य से बबिता के पिता आहत हैं. अपना सब कुछ दांव पर लगाकर बेटी को पढ़ाने वाले साधारण से किसान विजय बहादुर सिंह ईमेल आने के बाद से ही परेशान हैं.


एक तो बेटे के विकलांगता का दर्द झेल रहे विजय बहादुर सिंह बेटी के साथ अनहोनी की आशंका से डरे हुए हैं. उनका कहना है कि देश के सबसे प्रतिष्ठित संस्थान में अगर ऐसा होता है तो इस देश का क्या होगा.

Tags: Mumbai police

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर