लाइव टीवी

राजीव गांधी लाचार थे, लेकिन पीएम मोदी के सामने लाचारी नहीं: CM योगी

News18 Uttar Pradesh
Updated: March 5, 2019, 12:18 PM IST
राजीव गांधी लाचार थे, लेकिन पीएम मोदी के सामने लाचारी नहीं: CM योगी
सीएम योगी ने किया शुभारंभ

योगी ने कहा कि मैं कार्यक्रम में था एक किसान ने कहा के किसान सम्मान निधि योजना के तहत जो 2000 रुपये प्रधानमंत्री मोदी ने दिया वह हमारे खाते में आ गया और उसका मैसेज भी आया.

  • Share this:
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तीन दिवसीय दौरे पर गोरखपुर में है. मंगलवार को सीएम योगी आदित्यनाथ ने शहरी आजीविका मिशन का शुभारंभ करते हुए 5 लोगों को परिचय पत्र प्रदान किया. इस अवसर पर सीएम योगी ने कहा कि इस देश के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने कहा था कि हम 100 रुपये भेजते हैं और नीचे सिर्फ 10 रुपये जाता है. 90 रुपये दलाल खा जाते थे. प्रधानमंत्री राजीव गांधी के सामने लाचार की थी. लेकिन प्रधानमंत्री मोदी लाचार नहीं है. इसलिए उन्होंने खाते खुलवाए और गरीबों के खाते में सीधे पैसे भेजने की व्यवस्था की.

योगी ने कहा कि मैं कार्यक्रम में था एक किसान ने कहा के किसान सम्मान निधि योजना के तहत जो 2000 रुपये प्रधानमंत्री मोदी ने दिया वह हमारे खाते में आ गया और उसका मैसेज भी आया. सीएम योगी ने कहा कि गोरखपुर से इस योजना का शुभारंभ करते हुए पूरे प्रदेश के लिए मुझे प्रसन्नता हो रही है. गरीबों के लिए नरेंद्र मोदी के मन में जो पीड़ा हैं. इसके लिए उनके प्रति आभार व्यक्त करते हैं उत्तर प्रदेश के असंगठित क्षेत्र से जुड़े हुए कर्मियों के इस योजना के शुभारंभ के अवसर पर देश के प्रधानमंत्री का मैं स्वागत करता हूं.

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री बनने के बाद से मोदी ने 100 से ज्यादा योजनाएं प्रारंभ की है. यह जितनी भी योजनाएं प्रारंभ की है इसका उद्देश्य है कि हर वर्ग के गरीब के जीवन में खुशहाली लाया जा सके. सीएम ने कहा कि ये गरीब कल्याणकारी योजना है जो प्रारंभ हुई है. जन धन योजना के तहत खाता खुलवाया गया पूरे प्रदेश में 36 करोड़ से अधिक परिवारों के खाते खोले गए.

आजीविका मिशन का शुभारंभ के मौके पर योगी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में असंगठित क्षेत्र में कामगारों की एक बड़ी संख्या है, और इस संख्या करीब 5 करोड़ है. सिर्फ उत्तर प्रदेश से इस योजना के तहत 5 करोड़ लोग लाभान्वित होने जा रहा है. 40 वर्ष से कम के 3:30 करोड़ परिवार है जो सीधे-सीधे लाभान्वित होने जा रहे हैं. असंगठित क्षेत्र के रजिस्टर्ड श्रमिक के बच्चों को पढ़ाने के लिए आवासीय विद्यालय 18 मंडलों में बनाया जा रहा है.

(रिपोर्ट: रामगोपाल द्विवेदी)

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

ये भी पढ़ें:
Loading...

...तो इस बार भी बसपा का सोशल इंजीनियरिंग पर दांव, SC के बाद सर्वाधिक सीटें ब्राह्मणों को

लखनऊ में बेखौफ बदमाशों ने सिपाही को मारी गोली, ट्रामा सेंटर पहुंचे डीजीपी

प्रियंका गांधी की एंट्री के बाद कांग्रेस ने बदली चुनाव प्रचार की रणनीति, ये रहा प्लान

सपा-बसपा गठबंधन में RLD के शामिल होने का ऐलान आज, अखिलेश से मिलेंगे जयंत चौधरी

भारत बंद के दौरान सपा कार्यकर्ताओं ने प्रयागराज में रोकी ट्रेन, जमकर हुई नारेबाजी

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गोरखपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 5, 2019, 12:16 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...