होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /

अब गोरखपुर के माफिया राकेश यादव पर पुलिस का शिकंजा, चचेरे भाई को लगा 1 करोड़ का चूना; जानें कैसे?

अब गोरखपुर के माफिया राकेश यादव पर पुलिस का शिकंजा, चचेरे भाई को लगा 1 करोड़ का चूना; जानें कैसे?

अब गोरखपुर के माफिया राकेश यादव के चेचेरे भाई पर शिकंजा, गैंगस्टर एक्ट में कई गाड़ियां जब्त

अब गोरखपुर के माफिया राकेश यादव के चेचेरे भाई पर शिकंजा, गैंगस्टर एक्ट में कई गाड़ियां जब्त

UP News: गोरखपुर के माफिया राकेश यादव के भाई अशोक यादव पर यूपी पुलिस ने शिकंजा कसा है. गैंगस्टर एक्ट के आरोपी माफिया के चचेरे भाई के एक करोड़ के वाहनों की जब्ती हुई है. आरोपी माफिया के पास से जेसीबी, डंफर, फॉर्च्यूनर समेत दो बाइक जब्त किए गए हैं.

अधिक पढ़ें ...

गोरखपुर: उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में माफिया राकेश यादव पर पुलिस ने शिकंजा कसते हुए बड़ी कार्रवाई की है. दरअसल, गैंगस्टर एक्ट के आरोपी माफिया राकेश यादव के चचेरे भाई अशोक यादव के फॉर्च्यूनर समेत करीब एक करोड़ रुपये की कीमत के पांच वाहनों को जब्त कर लिया. गौरतलब है कि राकेश और उसके सहयोगियों के खिलाफ दो साल पहले गुलरिहा थाने में गैंगस्टर एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज हुआ था, जिसकी विवेचना कर रहे पिपराइच थानेदार ने आरोपियों की संपत्ति जब्त करने की रिपोर्ट जिलाधिकारी को भेजी थी.

वहीं, पिपराइच थानेदार की रिपोर्ट पर 22 जून 2021 को तत्कालीन जिलाधिकारी के. विजयेंद्र पांडियन ने गैंगस्टर एक्ट के आरोपी माफिया राकेश यादव, उसके चचेरे भाई अशोक यादव और दिनेश यादव के कुल 11 वाहन कुर्क करने के आदेश दिए थे. वाहनों को जब्त करने के लिए तहसीलदार सदर को निर्देश दिए गए थे, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई. 19 अगस्त 2021 को तत्कालीन जिलाधिकारी विजय किरन आनंद ने तहसीलदार सदर को कारण बताओ नोटिस किया था जिसके बाद 26 दिसंबर 2021 को एक आटो व राकेश यादव के मकान को जब्त किया गया.

हालांकि, माफिया व उसके साथियों की 10 गाड़ियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई थी. गुरुवार को एसपी नार्थ मनोज अवस्थी, नायब तहसीलदार विकास कुमार, सीओ चौरी चौरा प्रशाली गंगवार ने झुंगिया बाजार निवासी अशोक यादव की एक जेसीबी, एक फॉर्च्यूनर, एक डंफर व दो बाइक को जब्त कर लिया. बताया जा रहा है कि जब्त किए गए वाहनों की कुल कीमत करीब एक करोड़ रुपए रुपये होगी, जिनमें जेसीबी, डंफर, फॉर्च्यूनर समेत दो बाइक हैं.

Tags: Gorakhpur news, Uttar pradesh news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर