UP: योगी सरकार ने सभी 75 जिलों में तैनात किया नोडल अफसर, एक सप्ताह तक करेंगे प्रवास

योगी सरकार ने सभी 75 जिलों में तैनात किया नोडल अफसर (File Photo: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ)

नोडल अधिकारी रोज जिलाधिकारी (DM) तथा सेक्टर प्रभारी के रूप में तैनात जिला प्रशासन के अधिकारी से रोज रिपोर्ट लेंगे.

  • Share this:
लखनऊ. वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण (Corona Infection) का प्रसार गांवों की ओर अधिक होता देख सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने शनिवार को बड़ा फैसला लिया है. सीएम योगी ने इसके लिए सीनियर आईएएस अफसरों को जिलों का नोडल अधिकारी बनाया है. प्रदेश में 59 अफसरों को 75 जिलों का नोडल अधिकारी के रूप में तैनात किया गया है. यह अफसर एक सप्ताह तक जिले में प्रवास करेंगे.

दरअसल सीएम योगी ने टीम-9 के साथ अपने सरकारी आवास पर कोरोना वायरस संक्रमण पर समीक्षा बैठक के दौरान सभी को अब गांवों पर अधिक फोकस करने का निर्देश दिया. इसी क्रम में 75 जिलों में 59 अफसरों को नोडल अफसर बनाया गया है. अपर मुख्य सचिव के साथ ही प्रमुख सचिव और सचिव स्तर के अधिकारी गांवों में बढ़ रहे कोरोना वायरस संक्रमण पर अंकुश लगाने के प्रयास में जिला प्रशासन के कार्य पर नजर रखेंगे. नोडल अधिकारी रोज जिलाधिकारी तथा सेक्टर प्रभारी के रूप में तैनात जिला प्रशासन के अधिकारी से रोज रिपोर्ट लेंगे.

UP में 1 सप्ताह और बढ़ सकता है Lockdown, आज होने वाली कैबिनेट बैठक में होगा अंतिम फैसला

यह सभी जिलों में एक सप्ताह तक प्रवास करेंगे. यह लोग कोरोना संक्रमण की रोकथाम के उपाय सुझाने के साथ सीएचसी व पीएचसी में ऑक्सिजन बेड की उपलब्धता सुनिश्चित कराने के जिला प्रशासन के कार्यों का निरीक्षण करेंगे. एक सप्ताह के निरीक्षण के बाद आकर यह सभी शासन को अपनी रिपोर्ट देंगे. शासन ने टी वेंकटेश को अयोध्या,राजन शुक्ला को महराजगंज, डिम्पल वर्मा को हरदोई, हेमंत राव को इटावा व औरैय्या, बीएल मीना को मूजफ्फरनगर व शामली, प्रभात सरंगी को एटा व हाथरस, सुरेश चंद्रा को बरेली, सुधीर गर्ग को प्रतापगढ़, भुवनेश कुमार को जौनपुर तथा बी हेकाली झिमोमी को देवरिया का नोडल अफसर बनाया गया है.