लाइव टीवी

नोएडा में फंसे 80 हजार श्रमिकों की गुहार, ठग बना रहे शिकार, घर पहुंचने मदद करो सरकार
Greater-Noida News in Hindi

News18Hindi
Updated: May 22, 2020, 7:19 AM IST
नोएडा में फंसे 80 हजार श्रमिकों की गुहार, ठग बना रहे शिकार, घर पहुंचने मदद करो सरकार
लॉकडाउन में करीब 80 हजार मजदूर नोएडा में फंसे हैं.

लॉकडाउन (Lockdown) में फंसे श्रमिकों और अन्य व्यक्तियों के लिए उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) सरकार द्वारा तमाम स्पेशल बस (Bus) और ट्रेनें चलाने का दावा किया जा रहा है.

  • Share this:
नोएडा. लॉकडाउन (Lockdown) में फंसे श्रमिकों और अन्य व्यक्तियों के लिए उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) सरकार द्वारा तमाम स्पेशल बस (Bus) और ट्रेनें चलाने का दावा किया जा रहा है. इन स्पेशल ट्रेन और बसों से श्रमिक अपने अपने घर भी पहुंच रहे हैं. लेकिन इसी बीच 80 हजार से ज्यादा श्रमिकों के नोएडा में फंसे होने की बात सामने आई है. ये श्रमिक सरकार से उन्हें घर पहुंचाने की गुहार लगा रहे हैं. करीब एक हजार लोग हर दिन अपने घर जाने के लिए लोगों से मदद मांग रहे हैं. अलग अलग माध्यमों से लोग सरकार से उन्हें घर पहुंचाने की मांग कर रहे हैं. श्रमिकों को घर पहुंचाने के नाम पर ठग उन्हें अपना निशाना भी बना रहे हैं.

उत्तर प्रदेश में बसों को सियासत जारी है. कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव व यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा द्वारा भेजी गई बसों पर राजनीति चरम पर है. इसी बीच मजदूर अपने घर पहुंचने के लिए अब भी मशक्कत करते नजर आ रहे हैं. नोएडा में कुछ ऐसे ही हालात देखने को मिल रहे हैं. नोएडा से प्रकाशित हिंदुस्तान अखबार की एक खबर के मुताबिक नोएडा में विभिन्न प्रदेशों के करीब 80 हजार श्रमिक अब भी फंसे हुए हैं, जो हर दिन घर पहुंचने के लिए लोगों से मदद मांग रहे हैं.

सोशल मीडिया पर मदद की गुहार
खबर के मुताबिक नोएडा में फंसे श्रमिक आम लोगों से सीधे मदद के साथ ही सोशल मीडिया की भी मदद ले रहे हैं. हालात ये हैं कि फेसबुक, ट्विटर, वाट्सएप ग्रुप से मैसेज सरकार तक पहुंचाने की कोशिश कर रहे हैं. हालांकि नोएडा जिला प्रशासन और जनप्रतिनिधियों की तरफ से जरूरतमंदों के लिए घर जाने की व्यवस्था कराए जाने के दावे किए जा रहे हैं. खबर के मुताबिक फंसे मजदूरों में कई लोगों के पास खाना खाने की भी कोई व्यवस्था नहीं हो पा रही है. पैसे खत्म होने के कारण फ्लैट या कमरे का किराया कई लोग नहीं दे पा रहा हैं. काम भी ठप्प होने की वजह से परेशानी और बढ़ गई है.



ई-पास जारी कर रहा प्रशासन


खबर के मुताबिक नोएडा के एडीसीपी रणविजय सिंह के मुताबिक लॉडाउन में जरूरतमंदों के लिए जिला प्रशासन द्वारा ई-पास जारी किए जा रहे हैं. किसी को आपात स्थिति के लिए और स्वास्थ्य संबंधी सेवा के लिए उन्हें तुरंत प्रभाव से ई-पास जारी किया जाता है. इसके अलावा सभी आवेदनों पर गौर किया जा रहा है. हर संभव मदद की कोशिश की जा रही है.

ठगी के शिकार
खबर के मुताबिक नोएडा में फंसे लोगों के साथ घर पहुंचाने के नाम पर उनके साथ ठगी की जा रही है. खबर के मुताबिक हाल ही बनारस के एक युवक से कैब चालक ने 25 हजार रुपये ठगे लिए थे. आरोपी चालक पैसे लेने के बाद रास्ते में ही युवक को छोड़कर भाग गया था. इसके अलावा फर्जी पास का धंधा भी चल रहा है. नोएडा  पुलिस ने दिल्ली बॉर्डर से टैक्सी चालक को फर्जी पास के साथ गिरफ्तार किया था. एक आंकड़े के मुताबिक लॉकडाउन में नोएडा में घर भेजने के नाम पर 40 लोगों से ठगी की जा चुकी है.

ये भी पढ़ें:
ग्राउंड रिपोर्ट: MP के इस खतरनाक हॉटस्पॉट में 24 घंटे पुलिस का पहरा, 1 दिन में मिलते थे 20 मरीज, जानें- अब क्या हैं हाल?

भूपेश सरकार यूं ही नहीं दे रही 19 लाख किसानों को ₹5750 करोड़, जानें- 'न्याय' का पूरा ब्योरा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ग्रेटर नोएडा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 22, 2020, 7:19 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading