Home /News /uttar-pradesh /

ग्रेटर नोएडा: ग्रीन बेल्ट पर बिल्डरों और स्कूल का अवैध कब्जा, अथॉरिटी ने ठाेका जुर्माना

ग्रेटर नोएडा: ग्रीन बेल्ट पर बिल्डरों और स्कूल का अवैध कब्जा, अथॉरिटी ने ठाेका जुर्माना

ग्रेटर नोएडा: करीब 1.27 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया गया है.

ग्रेटर नोएडा: करीब 1.27 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया गया है.

Greater Noida News: जुर्माने की रकम एक सप्ताह में न जमा करने पर आरसी (रिकवरी सर्टिफिकेट) जारी करने की चेतावनी दी गई है. साथ ही ग्रीन बेल्ट से अवैध कब्जा शीघ्र न हटाने पर कानूनी कार्रवाई भी की जाएगी. ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण ने साफ कहा है कि ग्रीन बेल्ट कब्जा करने वालों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा.

अधिक पढ़ें ...

ग्रेटर नोएडा. यूपी के ग्रेटर नोएडा (Greater Noida) में ग्रीन बेल्ट (Green Belt) पर कब्जा करने वाले 14 बिल्डर (Builder) और स्कूल (School) पर ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने बड़ी कार्रवाई की है. प्राधिकरण ने इन बिल्डरों पर करीब 1.27 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है. यह रकम प्राधिकरण के खाते में एक सप्ताह में जमा न करने पर आरसी जारी करने और अवैध कब्जा शीघ्र न हटाने पर कानूनी कार्रवाई की चेतावनी दी गई है. अथॉरिटी की कार्रवाई के बाद बिल्डरों में हड़कंप मच गया है.

दरअसल, ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने अधिकांश सोसायटियों के आसपास रोड की तरफ ग्रीन बेल्ट छोड़ रखी है. इससे हरियाली और सोसाइटी की सुंदरता भी बढ़ जाती है. बिल्डर इन ग्रीन बेल्ट का रखरखाव करने के बजाय अतिक्रमण करने की कोशिश कर रहे हैं. ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण के निर्देश पर उद्यान विभाग ने सभी ग्रीन बेल्ट का मुआयना किया, जिसमें पता चला कि 13 बिल्डरों व एक स्कूल ने ग्रीन बेल्ट की तरफ रास्ता खोलकर कब्जा करने की कोशिश की है. सभी बिल्डर प्रोजेक्ट ग्रेटर नोएडा वेस्ट में स्थित हैं.

वाराणसी में फिर दरिंदगी: विवाह समारोह में 6 साल की बच्ची से दुष्कर्म, आरोपी की तलाश

13 बिल्डरों ने ग्रेटर नोएडा वेस्ट में एनएच-24 की लिंक रोड के किनारे बनी ग्रीन बेल्ट को बिल्डरों ने कब्जाने की कोशिश की है, जबकि ब्लूम इंटरनेशनल स्कूल ने टेकजोन सेवन की ग्रीन बेल्ट में रास्ता खोलकर कब्जाने की कोशिश की है. ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण ने इन बिल्डरों व स्कूल से सख्ती से निपटने के निर्देश दिए, जिसके चलते उद्यान विभाग ने इन सभी पर जुर्माना लगा दिया है. इन सभी को मिलाकर करीब 1.27 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया गया है.

जुर्माने की रकम एक सप्ताह में न जमा करने पर आरसी (रिकवरी सर्टिफिकेट) जारी करने की चेतावनी दी गई है. साथ ही ग्रीन बेल्ट से अवैध कब्जा शीघ्र न हटाने पर कानूनी कार्रवाई भी की जाएगी. ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण ने साफ कहा है कि ग्रीन बेल्ट कब्जा करने वालों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा.

बिल्डरों की लिस्ट:
1-सैम इंडिया ओलंपिया 4.01 लाख.
2-ड्रीम विले आर्केड 1.33 लाख.
3- गैलेक्सी प्लाजा 1.33 लाख.
4- साया 3.17 लाख.
5-आरजा स्क्वायर फर्स्ट 1.74 लाख.
6-आरजा स्क्वायर फर्स्ट 3.17 लाख.
7-आरजा स्क्वायर सेकेंड 1.90 लाख.
8- ईएम बार्क 1.90 लाख.
9- गौड़ सिटी 23.41 लाख.
10-एनएक्स वन 33.45 लाख.
11-निओ टाउन 17.06 लाख.
12-निराला एस्टेट 10.03 लाख.
13-निराला एस्टेट 17.39 लाख.
14-ब्लूम इंटरनेशनल स्कूल 7.35 लाख.

Tags: CM Yogi, Greater Noida Industrial Development Authority, Greater noida news, Green Corridor, Supreme Court, UP news, Yogi government

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर