CM योगी ने केजरीवाल पर साधा निशाना, बोले- बिजली-पानी के कनेक्शन काटना निंदनीय
Greater-Noida News in Hindi

CM योगी ने केजरीवाल पर साधा निशाना, बोले- बिजली-पानी के कनेक्शन काटना निंदनीय
सीएम योगी ने केजरीवाल का बगैर नाम लिए साधा निशाना (File Photo)

मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने समीक्षा बैठक में अधिकारियों को सुनिश्चित करने को कहा कि वर्तमान में प्रदेश सरकार से दी जाने वाली सभी राहत योजनाओं का लाभ जन सामान्य को मिले.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 30, 2020, 10:42 PM IST
  • Share this:
नोएडा. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के गौतमबुद्ध नगर (Noida) में कोरोना वायरस (Coronavirus) पैर पसारता नजर आ रहा है. इसी क्रम में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने सोमवार को नोएडा पहुंचकर यहां कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव की तैयारियों का जायजा लिया. इस दौरान गौतमबुद्ध यूनिवर्सिटी में समीक्षा बैठक में योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को पूरी गंभीरता से कार्य करने का निर्देश दिया. सीएम योगी ने दिल्ली के मुखयमंत्री केजरीवाल का नाम न लेते हुए कहा कि  दिल्ली सरकार द्वारा बिजली-पानी के कनेक्शन काटा जाना निंदनीय है. ऐसे समय पर जब हमें एक दूसरे की सहायता करनी चाहिए, तब दिल्ली सरकार द्वारा इन लोगों के बिजली-पानी के कनेक्शन काट दिए गए.

उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के दौरान असहाय लोगों को भोजन-पानी, दूध तथा अन्य जरुरी वस्तुएं नहीं मिलीं. जिस कारण भूखे लोग सड़कों पर उतरे. इतना ही नहीं बहुत सारे लोगों को मदद के नाम पर डीटीसी की बसों से बॉर्डर तक पहुंचाकर छोड़ दिया गया.

राहत का मिले लाभ



मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने समीक्षा बैठक में अधिकारियों को सुनिश्चित करने को कहा कि वर्तमान में प्रदेश सरकार से दी जाने वाली सभी राहत योजनाओं का लाभ जन सामान्य को मिले. उन्होंने बैंकों के साथ समन्वय बनाकर काम करने को कहा. उन्होंने निर्देश दिया कि जिन लाभार्थियों का खाता है तो यह सुनिश्चित किया जाए कि उनके खाते में प्रदेश सरकार द्वारा जारी की गई रकम क्रेडिट हो. साथ ही जिन असहाय और जरूरमंद लोगों के खाते नहीं खुले हैं उनके खातें अतिशीघ्र खुलवाने का काम किया जाए.



सोशल मीडिया की निगरानी में कोताही नहीं

अधिकारियों के साथ बैठक में मुख्यमंत्री ने सोशल मीडिया पर भी निगरानी रखने का निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि साशेल मीडिया पर लॉकडाउन के तीन महीने तक जारी रखने की अफवाह को फैलाया गया, जिसके कारण ही अफरातफरी फैली. जिससे मजदूरों का पलायन शुरू हुआ. ऐसी अफवाहों को रोकने व कानूनी कार्रवाई करने का भी उन्होंने निर्देश दिया.

ये भी पढ़ें:

नोएडा में पैर पसार रहा COVID-19, 4 नए मामले आए सामने, दो साल का बच्चा भी संक्रमित
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading