अपना शहर चुनें

States

सीएम योगी की फिल्म सिटी होगी वर्ल्‍ड क्‍लास, स्थानीय भाषाओं के साथ हिंदी फिल्‍मों को भी मिलेगी सब्सिडी : राजू श्रीवास्तव

कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव ने सीएम योगी के ड्रीम प्रोजेक्ट फिल्‍म सिटी का लिया जायजा. (फाइल फोटो)
कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव ने सीएम योगी के ड्रीम प्रोजेक्ट फिल्‍म सिटी का लिया जायजा. (फाइल फोटो)

मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) का ड्रीम प्रोजेक्ट 'फिल्‍म सिटी' को लेकर बुधवार को फिल्म विकास परिषद यूपी के चेयरमैन और कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव ( Raju Srivastava) ने ग्रेटर नोएडा दौरा किया.

  • Share this:
ग्रेटर नोएडा. उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) का ड्रीम प्रोजेक्ट 'फिल्‍म सिटी' अभी तक कितना आगे बढ़ा है. इसी का निरीक्षण करने के लिए बुधवार को फिल्म विकास परिषद यूपी के चेयरमैन और कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव ( Raju Srivastava) ग्रेटर नोएडा के यमुना विकास प्राधिकरण के दफ्तर पहुंचे. इस दौरान सीईओ अरुण वीर सिंह से मीटिंग हुई और फिर राजू श्रीवास्तव ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि यह विश्वस्तरीय फिल्म सिटी (Film City) होगी, जिसमें फाइव स्टार होटल, हेलीपैड और कॉलोनी समेत सभी सुविधाएं होंगी, ताकि किसी भी काम को लेकर बाहर न जाने पड़े.

राजू श्रीवास्तव ने बताया कि यहां बनने वाली फिल्मों में कोई गंदी चीज नहीं परोसी जाएगी बल्कि यहां यूपी की भाषा और भारत की संस्कृति पर खास ध्यान दिया जाएगा. इसके अलावा स्थानीय भाषाओं में बनने वाली फिल्म को 50 फीसदी और हिंदी व अन्य भाषाओं में बनने वाली फिल्म को 25 फीसदी सब्सिडी मिलेगी. यह फिल्‍म सिटी 'बुद्ध फिल्‍म सिटी' के नाम से जानी जाएगी. इसके साथ दावा किया है कि जेवर एयरपोर्ट और बुलेट ट्रेन के साथ फिल्‍म सिटी, तब तक बनकर तैयार हो जाएंगे तब तक यूपी में योगी सरकार दूरी बार आएगी. इसके सााथ उन्‍होंने कहा कि इस फिल्‍म सिटी में और क्या क्या शामिल किया जाए, इसलिए भारत के कलाकारों के साथ बाहर से भी लोगों की राह ली जा रही है. वहीं, सेंसर बोर्ड की एक यूनिट इस फिल्‍म सिटी में बन रही फिल्मों पर भी निगरानी रखे और आने वाले समय में वेब सीरीज का जमाना आ रहा है, जिसके लिए कुछ नियम बनाये गए हैं. हालांकि इस फिल्‍म सिटी में बनने वाली फिल्में बहुत ही पारदर्शी होंगी और उन्हें आप अपने परिवार के साथ बैठकर देख सकेंगे.





एक कलाकार का दर्द एक कलाकार ही जान सकता है
फिल्म विकास परिषद यूपी के चेयरमैन और कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव ने कहा कि एक कलाकार का दर्द एक कलाकार ही जान सकता है. जब कोई एक्टर मुम्बई में अपनी प्रतिभा को निखारता है तो उसे क्या क्या नहीं झेलना पड़ता, लेकिन उत्तर प्रदेश में वह अपने घर में परिवार के साथ रहकर शूटिंग कर सकता है और अपनी एक्टिंग की प्रतिभा को जगा सकता है. उसे कहीं दर दर की ठोकरें नहीं खानी पड़ेंगी. साथ ही बताया कि यमुना विकास प्राधिकरण के सीईओ अरुण वीर सिंह आगामी 20 फरवरी को एक फाइल सौपेंगे जिसमें फिल्‍म सिटी में होने वाली सुविधाओं की चर्चा होगी. यह फिल्‍म सिटी बनने से उत्तर प्रदेश सहित भारत के तमाम लोगों को बहुत सी सुविधा मिलेगी और उन्हें किसी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा. इसके अलावा उन्‍होंने फिल्‍म सिटी की जांच रिपोर्ट सीएम योगी आदित्यनाथ को सौंपने की बात कही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज