Covid-19 Update: गौतम बुद्ध नगर पुलिस आयुक्तालय के 335 पुलिसकर्मी कोरोना से संक्रमित

कात्यायन ने बताया कि थाना सेक्टर 58 में तैनात हेड कांस्टेबल वीरेंद्र प्रताप सिंह की रविवार को कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से मौत हो गई. (सांकेतिक फोटो)

कात्यायन ने बताया कि थाना सेक्टर 58 में तैनात हेड कांस्टेबल वीरेंद्र प्रताप सिंह की रविवार को कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से मौत हो गई. (सांकेतिक फोटो)

पुलिस उपायुक्त (मुख्यालय) मीनाक्षी कात्यायन (Meenakshi Katyayan) ने बताया कि संक्रमित पुलिसकर्मियों में वरिष्ठ अधिकारी, इंस्पेक्टर, उप- निरीक्षक, हेड कांस्टेबल और कांस्टेबल शामिल हैं.

  • Share this:

नोएडा. कोरोना वायरस (Corona virus) की दूसरी लहर में 15 मार्च से अब तक गौतम बुद्ध नगर पुलिस आयुक्तालय (Gautam Buddha Nagar Police Commissionerate) में तैनात 335 पुलिसकर्मी संक्रमित (Infected) हुए हैं. पुलिस उपायुक्त (मुख्यालय) मीनाक्षी कात्यायन ने बताया कि संक्रमित पुलिसकर्मियों में वरिष्ठ अधिकारी, इंस्पेक्टर, उप- निरीक्षक, हेड कांस्टेबल और कांस्टेबल शामिल हैं. उन्होंने बताया कि अब तक 104 पुलिसकर्मियों को अस्पताल से छुट्टी मिल चुकी है, जबकि 231 कर्मियों का उपचार विभिन्न अस्पतालों, गृह पृथक-वास में चल रहा है. संक्रमण की दूसरी लहर में एक उपनिरीक्षक सहित तीन पुलिस कर्मियों की मौत हो चुकी है.

कात्यायन ने बताया कि थाना सेक्टर 58 में तैनात हेड कांस्टेबल वीरेंद्र प्रताप सिंह की रविवार को कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से मौत हो गई. उन्होंने बताया कि पुलिस कर्मियों को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए हर संभव प्रयास किया जा रहा है। पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए जा रहे आरोपियों की भी कोविड-19 की जांच करायी जा रही है.

इंटीग्रेटिव बायॉलजी में जांच के लिए भेजा है

वहीं, कुछ देर पहले खबर सामने आई थी कि अलीगढ़ मुस्लिम विश्विद्यालय (Aligarh Muslim University) में कोरोना वायरस से मरने (Corona Deaths) वालों के आंकड़ों में लगातार इजाफा हो रहा है. जिसके बाद अब यूनिवर्सिटी प्रशासन ने कोरोना वायरस के नए वैरिएंट (Corona Virus New Variant) के विकसित होने की आशंका जताई जा है. इसी को लेकर अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय ने अपनी लैब में एकत्र किये गए सैंपल्स को दिल्ली की सीएसआईआर-इंस्टीट्यूट ऑफ जिनॉमिक्स ऐंड इंटीग्रेटिव बायॉलजी में जांच के लिए भेजा है.
बता दें अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में कोविड से संक्रमित होने के बाद 20 दिनों के अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के अंदर 16 वर्किंग और 10 रिटायर्ड फैकल्टी मेंबर्स के साथ लगभग 40 से 45 शिक्षण और गैर-शिक्षण कर्मचारियों की कोरोना से मौत हो चुकी है. लगातार हो रही मौतों ने अब विश्वविद्यालय की चिंता बढ़ा दी है. यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर तारिक मंसूर ने इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च को यूनिवर्सिटी में इकट्ठा किए गए कोविड सैंपल्स की तत्काल जांच कराने के लिए चिट्ठी लिखी है. ये सभी सैंपल्स AMU में बनी ICMR से प्रमाणित लैब ने इकट्ठा किए गए हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज