अपना शहर चुनें

States

मुरादनगर श्मशान घाट हादसा: 25 मौतों का जिम्मेदार मुख्य आरोपी अजय त्यागी गिरफ्तार

गाजियाबाद के मुरादनगर में रविवार को श्मशान घाट के गलियारे की छत गिरने से 25 लोगों की मौत हो गई थी. (फाइल)
गाजियाबाद के मुरादनगर में रविवार को श्मशान घाट के गलियारे की छत गिरने से 25 लोगों की मौत हो गई थी. (फाइल)

Muradnagar Cremation Ground Tragedy: एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि पुलिस की स्पेशल टीम ने ठेकेदार अजय त्यागी को गैर जनपद से गिरफ्तार किया है. पुलिस आरोपी को लेकर देर रात गाजियाबाद पहुंची. आरोपी को मंगलवार को गाजियाबाद की अदालत में पेश किया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 5, 2021, 7:37 AM IST
  • Share this:
गाजियाबाद. दिल्ली से सटे गाजियाबाद (Ghaziabad) के मुरादनगर (Muradnagar) में रविवार को श्मशान घाट (Cremation Ground Tragedy) के गलियारे की छत गिरने से 25 लोगों की मौत मामले में फरार चल रहे ठकेदार अजय त्यागी (Contractor Ajay Tyagi) को सोमवार देर शाम पुलिस को स्पेशल टीम ने गिरफ्तार कर लिया. अजय त्यागी हादसे का मुख्य आरोपी है. उस पर आरोप है कि निर्माण में घटिया सामान का इस्तेमाल किया गया जिसकी वजह से 15 दिन पहले बना यह गलियारा भरभराकर गिर गया और 25 लोगों की मौत हो गई. मंगलवार को पुलिस अजय त्यागी को कोर्ट में पेश करेगी.

एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि पुलिस की स्पेशल टीम ने ठेकेदार अजय त्यागी को गैर जनपद से गिरफ्तार किया है. पुलिस आरोपी को लेकर देर रात गाजियाबाद पहुंची. आरोपी को मंगलवार को गाजियाबाद की अदालत में पेश किया जाएगा. इससे पहले सोमवार की सुबह मुरादनगर नगर पालिका की  निहारिका सिंह, जूनियर इंजीनियर चंद्रपाल और सुपरवाइजर आशीष को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया गया, जहां से सभी को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया.

muradnagar cremation ground tragedy contractor ajay tyagi
अजय त्यागी




ईओ निहारिका सिंह सस्पेंड
उधर मामले में कार्रवाई करते हुए शासन ने ईओ निहारिका सिंह को निलंबित कर दिया. जेई चंद्रपाल के खिलाफ भी कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं. साथ ही निर्माण की थर्ड पार्टी जांच कर क्लीनचिट देने वाले पीडब्लूडी के अधिशासी अभियंता व अवर अभियंता के खिलाफ भी विभागीय कार्रवाई की सिफारिश की गई है. प्रमुख सचिव नगर विकास दीपक कुमार ने बताया कि ईओ निहारिका सिंह को घटिया निर्माण कार्य के लिए निरीक्षण में ढिलाई बरतने के लिए प्रथम दृष्टया जिम्मेदार पाया गया है.

मंडलायुक्त व डीएम पर गिर सकती है गाज

बताया जा रहा है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हादसे पर नाराजगी जताई है. कमिश्नर मेरठ अनीता सी मेश्राम और गाजियाबाद डीएम अजय शंकर पांडेय से स्पष्टीकरण मांगा गया है. कमिश्नर व डीएम समेत कई अफसरों पर गाज गिर सकती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज