होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /Greater Noida बिल्डिंग हादसा: बिल्डर गौरीशरण दुबे समेत तीन गिरफ्तार

Greater Noida बिल्डिंग हादसा: बिल्डर गौरीशरण दुबे समेत तीन गिरफ्तार

राहत और बचाव कार्य में एनडीआरएफ की टीम जुटी हुई है.

राहत और बचाव कार्य में एनडीआरएफ की टीम जुटी हुई है.

ग्रेटर नोएडा हादसे ने विकास प्राधिकरण के दावों की भी पोल खोलकर रख दी है. बताया जा रहा है कि बिना नक्शा पास करवाए ही अवै ...अधिक पढ़ें

    ग्रेटर नोएडा के शाहबेरी गांव में मंगलवार रात दो इमारतों के धराशायी होने से अब तक तीन लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि मलबे में अभी भी 6 से 7 लोगों के दबे होने की आशंका है. दबे लोगों के जीवित होने की संभावना कम बतायी जा रही है.

    इस बीच पुलिस ने निर्माणाधीन बिल्डिंग के बिल्डर गौरीशरण दुबे समेत तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. दुबे ही निर्माणाधीन इमारत का मालिक बताया जा रहा है. शाहबेरी में बिल्डिंग गिरने के मामले में कोतवाली बिसरख पुलिस ने गिरफ्तार आरोपियों के खिलाफ धारा 304 के तहत गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज किया है. इस बीच एनडीआरएफ की चार कंपनियां रेस्क्यू ऑपरेशन में लगी हैं. जगह की कमी के चलते राहत और बचाव में थोड़ी दिक्कत आ रही है.

    इस बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हादसे में जांच के आदेश देते हुए राहत बचाव कार्य में तेजी लाने और घायलों को उचित इलाज मुहैया कराए जाने के निर्देश दिए हैं. डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने हादसे पर शोक प्रकट करते हुए कहा कि रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है. सरकार की संवेदना उन परिवारों के साथ है जिन्होंने हादसे में अपनों को खोया है.

    इस बीच मामले में जिला प्रशासन ने जांच के आदेश दे दिए हैं.जिला अधिकारी ने एडीएम प्रशासन को जाँच सौंपी है. 15 दिनों के भीतर जांच रिपोर्ट जिला अधिकारी को सौंपी जाएगी.

     




    ग्रेटर नोएडा हादसे ने विकास प्राधिकरण के दावों की भी पोल खोलकर रख दी है. बताया जा रहा है कि अवैध रूप से बिना नक्शा पास करवाए ही 6 मंजिला इमारत का निर्माण करवाया जा रहा था. मामले में जिला प्रशासन ने भी जांच के आदेश दे दिए हैं.

    बताया जा रहा है कि 6 मंजिला इमारत निर्माण कार्य के दौरान मंगलवार रात भरभराकर बगल के सात मंजिला इमारत पर जा गिरी. इस हादसे में निर्माणाधीन इमारत में रह रहे मजदूर समेत बगल की बिल्डिंग में रहने वाले कई परिवार दब गए. बुधवार सुबह तक तीन शवों को निकाल लिया गया था.

    Tags: ग्रेटर नोएडा

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें