Assembly Banner 2021

किसानों को गाजीपुर जाने से रोकने के लिए ग्रेटर नोएडा पुलिस इस प्लान पर कर रही है काम!

राकेश टिकैत के समर्थन में किसानों के दिल्ली की तरफ बढ़ते कदम को रोकने के लिए सतर्क हुई यूपी पुलिस.

राकेश टिकैत के समर्थन में किसानों के दिल्ली की तरफ बढ़ते कदम को रोकने के लिए सतर्क हुई यूपी पुलिस.

Kisan Aandolan: पश्चिमी यूपी के कई जिलों से किसानों के आने की संभावना के मद्देनजर उन्हें रोकने के लिए ग्रेटर नोएडा (Graeter Noida) में कई जगह पर पुलिस (UP Police) ने चेकिंग अभियान शुरू कर दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 29, 2021, 8:54 PM IST
  • Share this:
नोएडा. भारतीय किसान यूनियन (BKU) के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) की भावुक अपील के बाद बड़ी संख्या में किसान गाज़ीपुर पहुंचने लगे हैं. किसान आंदोलन में भाग लेने के लिए गुरुवार रात से ही किसानों का गाज़ीपुर (Ghazipur) पहुंचना शुरू हो गया था. मुजफ्फरनगर की किसान पंचायत के बाद गाज़ीपुर पहुंचने वाले किसानों की संख्या और बढ़ सकती है. टप्पल, जेवर (Jewar) और मथुरा के किसान भी गाज़ीपुर की ओर कूच कर सकते हैं.

यूपी पुलिस ने ग्रेटर नोएडा (Noida News) के जेवर टोल प्लाजा, लुहारली टोल प्लाजा और जीरो प्वाइंट पर बैरिकेटिंग कर चेकिंग तेज कर दी है. बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात कर दिया गया है. हर एक आने-जाने वाले पर पैनी नज़र रखी जा रही है.

चेकिंग के लिए पुलिस ने बनाया है यह प्लान


किसानों के जत्थे गाज़ीपुर की ओर न बढ़ें इसके लिए ग्रेटर नोएडा पुलिस ने पहली बैरिकेटिंग यमुना एक्सप्रेस-वे के ज़ीरो पाइंट पर की है. टप्पल, जेवर और मथुरा की ओर से आने वाले एक-एक वाहन को रोककर चेक किया जा रहा है. इसके बाद वाहनों को सीधे परि चौक की ओर भेज दिया जाता है. यहां भी पुलिस पहले से ही तैनात है. यहां एक वाहन में चार-पांच से ज़्यादा व्यक्ति होने पर पूछताछ की जा रही है. आईडी भी चेक की जा रही है. इसी तरह की चेकिंग लुहारली टोल प्लाजा पर भी है.
सरकार की नई पहल...जेवर एयरपोर्ट को 4 बड़ी योजनाओं से जोड़ा, जानें किन लोगों को मिलेगा फायदा

टिकैत के लिए मटके में ग्रेनो से गया है पानी




सूत्रों की मानें तो ग्रेटर नोएडा के कुछ किसान मटके में राकेश टिकैत के लिए पानी लेकर गए हैं. गौरतलब रहे कल राकेश टिकैत ने गाज़ीपुर धरने पर यूपी सरकार द्वारा बिजली-पानी बंद किए जाने के बाद यह ऐलान किया था कि अब वो गांव से आए पानी को ही पीएंगे. प्रशासन का भेजा गया पानी नहीं पिएंगे. हालांकि ग्रेटर नोएडा में पुलिस व्यवस्था चारों ओर चौकस है, बावजूद इसके ग्रेटर नोएडा के किसान बड़ी संख्या में गाज़ीपुर पहुंच चुके हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज