• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • नोएडा: जुमे की नमाज पढ़ने के लिए मस्जिद में जमा हुए 25 लोग, पुलिस ने 7 को किया गिरफ्तार

नोएडा: जुमे की नमाज पढ़ने के लिए मस्जिद में जमा हुए 25 लोग, पुलिस ने 7 को किया गिरफ्तार

सारण में लूटकांड का केस दर्ज करने वाला ही निकला आरोपी. (सांकेतिक फोटो)

सारण में लूटकांड का केस दर्ज करने वाला ही निकला आरोपी. (सांकेतिक फोटो)

पुलिस ने कहा कि ग्रेटर नोएडा के जारचा इलाके में कालोंडा गांव (Kalonda Village) में 20 से 25 लोग जुमे की नमाज के लिये मस्जिद में जमा हुए थे.

  • Share this:
    नोएडा. ग्रेटर नोएडा (Greater Noida) में कोरोना वायरस के चलते लागू धारा 144 का उल्लंघन कर जुमे की नमाज (Namaz) अदा करने के लिये कथित रूप से जमा होने पर सात लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया. पुलिस ने कहा कि ग्रेटर नोएडा के जारचा इलाका स्थित कालोंडा गांव (Kalonda Village) में 20 से 25 लोग जुमे की नमाज के लिये मस्जिद में जमा हुए, जिसके बाद किसी ने पुलिस को फोन कर इस बारे में जानकारी दे दी.

    अधिकारियों के अनुसार कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिये गौतमबुद्ध नगर में धारा 144 (चार या उससे अधिक लोगों के एक साथ जमा होने पर मनाही) लागू है और अधिकारी लोगों से घरों में रहने तथा एक जगह जमा नहीं होने की अपील कर रहे हैं. पुलिस के एक प्रवक्ता ने कहा, 'पुलिस जब वहां पहुंची तो मस्जिद के भीतर 20-25 लोग थे जो नमाज की तैयारी कर रहे थे. उनमें से सात को गिरफ्तार कर लिया गया है. बाकी लोग भाग गए, जिनमें एक मौलाना भी था जो शायद नमाज पढ़ाने वाला था.' अधिकारी ने कहा कि गिरफ्तार किये गए लोगों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 188, 269, 270 के तहत मामला दर्ज किया गया है.

    बता दें कि उत्तर प्रदेश में लॉकडाउन का उल्लंघन करने के मामले बढ़ते जा रहे हैं. जबकि लॉकडाउन के आदेशों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ पुलिस लगातार कड़ी कार्रवाई कर रही है. यूपी पुलिस ने लॉकडाउन उल्लंघन के आरोप में अब तक 42,359 लोगों के खिलाफ 13,208 मुकदमे दर्ज कर चुकी है.

    वसूला गया 5 करोड़ 87 लाख रुपए का जुर्माना
    अपर मुख्य सचिव (गृह एवं सूचना) अवनीश कुमार अवस्थी ने शुक्रवार को लखनऊ में संवाददाताओं को बताया कि लॉकडाउन का उल्लंघन करने के लिए जिन वाहनों का चालान किया गया, उन वाहन मालिकों से 5 करोड़ 87 लाख रुपए का जुर्माना वसूला गया है. अवस्थी ने बताया कि धारा 188 के तहत इन लोगों के खिलाफ कार्रवाई की गई है. कुल एक करोड़ 39 लाख वाहनों की जांच की गई और 31 लाख से अधिक वाहनों का चालान किया गया है. उन्होंने बताया कि आवश्यक वस्तु कानून के तहत 426 लोगों के खिलाफ 344 प्राथमिकी दर्ज की गई है.

    देश में मरने वालों की संख्या 199 पहुंचीसंक्रमितों की संख्या 6,412 हुई
    गौरतलब है कि कोरोना वायरस के कारण देश में मरने वाले लोगों की संख्या बढ़कर शुक्रवार को 199 हो गई और संक्रमित लोगों की संख्या 6,412 पर पहुंच गई. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि देश में अब भी 5,709 लोग संक्रमित हैं, 503 लोग स्वस्थ हो चुके हैं और उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है.

    भारत में कम्युनिटी ट्रांसमिशन का खतरा नहीं- WHO
    विश्व स्वास्थ्य संगठन ने अब साफ कर दिया है कि भारत में कम्युनिटी ट्रांसमिशन का खतरा नहीं है. डब्ल्यूएचओ ने कहा कि कोरोना वायरस को लेकर जो रिपोर्ट तैयार की गई थी, उसमें थोड़ी गलती हो गई और भारत को भी कम्युनिटी ट्रांसमिशन में दिखा दिया गया. उन्होंने साफ करते हुए कहा कि भारत में कम्युनिटी ट्रांसमिशन का खतरा नहीं है जबकि भारत में क्लस्टर ऑफ केस बढ़े हैं.

    (इनपुट- भाषा)

    ये भी पढ़ें- 

    योगी सरकार की बड़ी पहल, रिक्शा चालक समेत इन लोगों के अकाउंट में भेजे 1000 रुपए

    मास्क के लिए खादी देने से UP के गांधी आश्रमों का इनकार, दूसरे विकल्प पर गौर

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज