लाइव टीवी

नोएडा: COVID-19 मरीजों के लिए 28 दिनों की पेड लीव, लॉकडाउन के दौरान देनी होगी दिहाड़ी मजदूरी
Greater-Noida News in Hindi

भाषा
Updated: March 29, 2020, 10:21 AM IST
नोएडा: COVID-19 मरीजों के लिए 28 दिनों की पेड लीव, लॉकडाउन के दौरान देनी होगी दिहाड़ी मजदूरी
नोएडा डीएम बीएनसिंह

शनिवार देर रात दिए आदेश में प्रशासन ने यह भी कहा कि लॉकडाउन (बंद) के कारण बंद दुकानों, उद्योगों और कारखानों को अपने कर्मचारियों और मजदूरों को इस अवधि के दौरान अवकाश के साथ दिहाड़ी मजदूरी भी देनी होगी.

  • Share this:
नोएडा. नोएडा (Noida) व ग्रेटर नोएडा (Greater Noida) में कोरोनावायरस (Coronavirus) से संक्रमित और इलाज के लिए पृथक रह रहे किसी भी कामगार या कर्मचारी को उनके नियोक्ता 28 दिन का वैतनिक अवकाश देंगे. गौतम बुद्ध नगर जिला प्रशासन ने यह आदेश दिया है. शनिवार देर रात दिए आदेश में प्रशासन ने यह भी कहा कि लॉकडाउन (बंद) के कारण बंद दुकानों, उद्योगों और कारखानों को अपने कर्मचारियों और मजदूरों को इस अवधि के दौरान अवकाश के साथ दिहाड़ी मजदूरी भी देनी होगी.

यह आदेश ऐसे समय में आया है जब खबरें हैं कि 21 दिन के देशव्यापी बंद के कारण हजारों दिहाड़ी मजदूर अपने घरों, शहरों और गांवों की ओर निकल पड़े हैं. गौतम बुद्ध नगर जिला मजिस्ट्रेट बीएन सिंह ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार वैश्विक महामारी को पहले ही ‘‘आपदा’’ घोषित कर चुकी है और वायरस के प्रसार पर रोक लगाने के मकसद से बंद का आह्वान किया गया है.

दिखाना होगा मेडिकल सर्टिफिकेट



सिंह ने कहा, ‘‘कोविड-19 से संक्रमित तथा इलाज के लिए पृथक रखे गए कामगार एवं कर्मचारियों को 28 दिन का वैतनिक अवकाश मिलेगा. ऐसे मरीजों को स्वस्थ होकर अस्पताल से छुट्टी मिलने पर अपने नियोक्ताओं को इलाज का प्रमाण-पत्र दिखाना होगा.’’



मजदूरों को चार अप्रैल तक वेतन देने का निर्देश

उन्होंने आदेश में कहा, ‘‘राज्य सरकार या जिला प्रशासन के आदेश के कारण अस्थायी तौर पर बंद सभी दुकानें, वाणिज्यिक इकाइयां और कारखाने बंद की अवधि के दौरान अपने कर्मचारियों तथा मजदूरों को वैतनिक अवकाश देंगी.’’ आदेश में कहा गया है कि ऐसे प्रतिष्ठान अपने कर्मचारियों तथा मजदूरों को 30 और 31 मार्च या तीन और चार अप्रैल को वेतन देने की व्यवस्था करें.

आदेश का उल्लंघन करने पर होगी कार्रवाई

उन्होंने कहा कि इस आदेश का उल्लंघन करने पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी. उल्लंघन करने पर एक साल की जेल या आर्थिक जुर्माना या दोनों और अगर आदेश के उल्लंघन से जान या माल का नुकसान होता है तो दो साल की जेल की सजा हो सकती है. मजिस्ट्रेट ने कहा कि लोग इससे संबंधित किसी भी उल्लंघन की शिकायत प्रशासन के एकीकृत नियंत्रण कक्ष नंबर (0120-2544700) पर कर सकते हैं. स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि गौतम बुद्ध नगर में कोरोना वायरस के 26 मामले सामने आए हैं जिनमें से शनिवार तक चार मरीजों का इलाज कर अस्पताल से छुट्टी दे दी गई.

ये भी पढ़ें:

Lockdown आदेश-:लखनऊ में एक महीने किराया मांगा तो होगी सजा, इस नंबर पर करें शिकायत

Lockdown: नोएडा में फंसे 600 से ज्यादा लोगों को आज घर भेजेगी UP सरकार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ग्रेटर नोएडा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 29, 2020, 10:20 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading