अपना शहर चुनें

States

Noida News: शहर में लगेंगे 19 नए उद्योग, सैकड़ों लोगों को रोजगार मिलने का दावा

19 जनवरी को जूम एप के जरिये बैठक होगी. प्राधिकरण के सीईओ इसमें शामिल होंगे. (फाइल फोटो)
19 जनवरी को जूम एप के जरिये बैठक होगी. प्राधिकरण के सीईओ इसमें शामिल होंगे. (फाइल फोटो)

जमीन (Land) पाने वाली कंपनियों में सोलर एनर्जी, मोबाइल पार्ट्स, इलेक्ट्रॉनिक्स, फूड प्रोसेसिंग से जुड़ी इकाइयां शामिल हैं. वहीं, सोमवार को भी एलयूएलयू ग्रुप को 20 एकड़ जमीन आवंटित की गई थी.

  • Share this:
नोएडा. उत्तर प्रदेश वासियों के लिए एक अच्छी खबर है. ग्रेटर नोएडा (Greater Noida) में 19 कंपनियां (19 companies) उद्योगों के लगने के लिए जमीन (Land) पाने में सफलता हासिल की. इन 19 कंपनियों के ग्रेटर नोएडा में आने से 1000 लोगों को रोजगार मिलेगा. इससे बेरोजगारी में कुछ हद तक कमी आएगी. जानकारी के मुताबिक, इन कंपनियों के आने से 230 करोड़ रुपये का निवेश होगा. 2000 वर्ग मीटर से छोटे आकार के भूखंडों के लिए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण दफ्तर में ड्रॉ हुआ. कुल 19 भूखंडों के लिए 53 आवेदन आए थे.पर्ची निकालकर सफल आवेदकों के नाम घोषित किए गए. ड्रॉ की वीडियो रिकॉर्डिंग भी कराई गई थी.

जानकारी के मुताबिक, जमीन पाने वाली कंपनियों में सोलर एनर्जी, मोबाइल पार्ट्स, इलेक्ट्रॉनिक्स, फूड प्रोसेसिंग से जुड़ी इकाइयां शामिल हैं. वहीं, सोमवार को भी एलयूएलयू ग्रुप को 20 एकड़ जमीन आवंटित की गई थी. इसमें 200 करोड़ का निवेश और 2000 लोगों को रोजगार मिलने की उम्मीद है.  कहा जा रहा है कि ग्रेटर नोएडा में कंपनियों की समस्याओं को हल करने के लिए 19 जनवरी को जूम एप के जरिये बैठक होगी. प्राधिकरण के सीईओ इसमें शामिल होंगे.





व्यावसायिक भूखंड के लिए 220 एकड़ यानि कुल 1000 एकड़ भूमि उपलब्ध
बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का ड्रीम प्रोजेक्ट फिल्म सिटी ग्रेटर नोएडा में ही बन रहा है. सरकार ने इस फिल्म सिटी के लिए 1000 एकड़ की उपलब्ध कराई है. यमुना एक्सप्रेस वे के मुख्य कार्यपालक अधिकारी अरुण वीर सिंह ने अपर मुख्य सचिव अवस्थापना एवं ओद्योगिक विभाग को पत्र लिखकर फिल्म सिटी के उपलब्ध भूमि की जानकारी दी थी. इस पत्र में फिल्म सिटी के लिए यमुना एक्सप्रेस वे ओद्योगिक विकास प्राधिकरण क्षेत्र के सेक्टर - 21 में ओद्योगिक भूखंडों के लिए 780 एकड़ और व्यावसायिक भूखंड के लिए 220 एकड़ यानि कुल 1000 एकड़ भूमि उपलब्ध है.

यूपी की इकॉनमी को बहुत फायदा मिलेगा
आने वाले दिनों में जब यहां फिल्म सिटी में हलचल बढ़ेगी तो एक्सप्रेसवे किनारे होटल और हॉस्पिटैलिटी इंडस्ट्री बूम करेगी. इससे लाखों लोगों को रोजगार भी मिलेगा. भविष्य में इस बात की पूरी संभावना है कि नोएडा से आगर तक एक्सप्रेस के दोनों तरफ हजारों की संख्या में रेस्टोरेंट खुलेंगे और दिल्ली-एनसीआर के लोग आउटिंग के लिए निकलेंगे. इससे यूपी की इकॉनमी को बहुत फायदा मिलेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज