लापता बेटे का घर वाले कर रहे थे इंतजार, नोएडा पुलिस ने कर दिया अंतिम संस्कार
Greater-Noida News in Hindi

लापता बेटे का घर वाले कर रहे थे इंतजार, नोएडा पुलिस ने कर दिया अंतिम संस्कार
नोएडा पुलिस ने कर दिया अंतिम संस्कार (file photo)

डीसीपी (DCP) राजेश एस ने बताया कि थाना बिसरख क्षेत्र में 18 अगस्त को एक बच्चे के लापता होने की सूचना मिली थी. जिसकी रिपोर्ट 20 अगस्त को दर्ज करवाई थी.

  • Share this:
नोएडा. राजधानी दिल्ली से सटे नोएडा (Noida) में पुलिस की बड़ी लापरवाही सामने आई है. जहां एक परिवार को अपने लड़के का अंतिम संस्कार भी नसीब नहीं हुआ. 17 अगस्त को 20 साल का एक लड़का अचानक लापता हो गया था. पुलिस को एक संदिग्ध शव मिला और बिना जांच पड़ताल के ही अंतिम संस्कार कर दिया गया. इसको लेकर पुलिस विभाग में उस समय हड़कंप मच गया जब गुमशुदा के परिजन रविवार को थाना 39 का घेराव करने पंहुचे. पुलिस की ओर से व्हाट्सअप ग्रुप पर एक डेड बॉडी की फोटो दिखाने पर परिजनों ने विशाल यादव को पहचाना.

जानकारी के मुताबिक नोएडा थाना 39 में 20 वर्षीय विशाल यादव बीते 17 अगस्त को गायब हुआ था.जिसकी रिपोर्ट परिजनों ने 19 अगस्त को दर्ज करवाई थी. घर वालों को उम्मीद थी कि नोएडा पुलिस गुमशुदा विशाल की तलाश करेगी लेकिन उधर 18 अगस्त को थाना बिसरख क्षेत्र के एनएच-24 हाइवे के पास एक संदिग्ध अवस्था में मिले शव को पुलिस ने बिना जांच पड़ताल किए 72 घंटे बाद अंतिम संस्कार कर दिया.

जेसीबी चलाता था मृतक



परिजनों का आरोप था कि उनके 20 वर्षीय बेटे विशाल यादव जोकि सेक्टर 45 सदरपुर में जेसीबी चलाता था, बीते 17 अगस्त से लापता हुआ. जब पुलिस ने अपने व्हाट्सअप ग्रुप पर एक डेडबॉडी की फोटो दिखाई तो उन्होंने अपने लापता बेटे को पहचान लिया. नोएडा पुलिस की बड़ी लापरवाही उस वक्त सामने आई जब परिजनों को ये पता चला कि बिना जांच किए विशाल यादव का अंतिम संस्कार भी पुलिस ने कर दिया है.
जेसीबी मालिक की भूमिका संदिग्ध

17 अगस्त को करीब 11 बजे विशाल यादव जेसीबी चलाने नोएडा सेक्टर 45 के लिए अपने घर से निकला था. कुछ देर बाद ही विशाल की कॉल आई कि उसका झगड़ा हो गया है. विशाल के पापा ने पूछा तो उसने कहा कि घर आकर बताता हूं. विशाल ने रात 9.30 बजे घर पर फिर फोन किया और कहा कि वह सेक्टर 76 में जेसीबी मालिक गिरीश के घर पर है और आज नहीं आएगा, कल अपनी तनख्वाह लेकर ही घर आएगा. ये सुनकर घरवाले बेफिक्र हो गए क्योंकि उन्हें लगा कि विशाल अपने मालिक के साथ है.

18 अगस्त को करीब 12 बजे तक जब विशाल घर नहीं पंहुचा तो घरवालों को चिंता हुई. फोन करने पर उसका मोबाइल स्विच ऑफ जा रहा था. घरवालों ने इधर उधर उसकी तलाशी की लेकिन विशाल का कोई सुराग नहीं मिला. घरवालों ने थाने में जाकर गुमशुदगी की शिकायत दर्ज करा दी. डीसीपी राजेश एस ने बताया कि थाना बिसरख क्षेत्र में 18 अगस्त को एक बच्चे के लापता होने की सूचना मिली थी. जिसकी रिपोर्ट 20 अगस्त को दर्ज करवाई थी. पुलिस टीम मामले की जांच कर रही है जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

(रिपोर्ट- अमित सिंह)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज