Home /News /uttar-pradesh /

ग्रेटर नोएडा के 2000 फ्लैट मालिकों को नए साल में मिलेगा गिफ्ट, 'स्वामी' करेगा मदद

ग्रेटर नोएडा के 2000 फ्लैट मालिकों को नए साल में मिलेगा गिफ्ट, 'स्वामी' करेगा मदद

नए साल में 2 हजार से ज्यादा फ्लैट बॉयर्स अपने फ्लैट में जा सकते हैं. Demo Pic

नए साल में 2 हजार से ज्यादा फ्लैट बॉयर्स अपने फ्लैट में जा सकते हैं. Demo Pic

Greater Noida News: रुके प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिए स्वामी फंड लेने की सबसे पहली शर्त यह है कि प्रोजेक्ट का रेरा में पंजीकरण होना अनिवार्य है. इसके बाद आवेदन मिलने पर एसबीआई कैपिटल की टीम साइट पर जाकर देखेगी कि प्रोजेक्ट कितना सही है. अगर प्रोजेक्ट घाटे का नहीं है तभी उसके लिए फंड जारी किया जाता है. जैसे अगर प्रोजेक्ट को पूरा करने में 100 करोड़ रुपये खर्च हो रहे हैं तो बनने के बाद उससे ज्यादा फायदा मिल पाएगा या नहीं, इसके लिए अथॉरिटी से मोर्टगेज परमिशन भी लेनी पड़ती है. इतना ही नहीं जारी होने वाले फंड में से अथॉरिटी को जमीन की बकाया रकम भी देनी होती है.

अधिक पढ़ें ...

    ग्रेटर नोएडा. हजारों फ्लैट मालिक ऐसे हैं जो कई साल से अपने फ्लैट में रहने की आस लगाए हुए हैं. नोएडा-ग्रेटर नोएडा में ऐसे फ्लैट बॉयर्स (Flat Buyers) की एक लम्बी लिस्ट है. लेकिन नए साल में 2000 से ज्यादा फ्लैट बॉयर्स अपने फ्लैट में जा सकते हैं. स्वामी फंड की किस्त जारी होने के चलते उन्हें यह मौका मिलने जा रहा है. अब उन प्रोजेक्ट के पूरा होने का नंबर आ गया है जहां बॉयर्स के फ्लैट हैं. 3 बड़े प्रोजेक्ट को स्पेशल विंडो फॉर अफोर्डेबल एंड मिड इनकम हाउसिंग (स्वामी फंड) के तहत स्वामी फंड मिला है. वहीं ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी (Greater Noida Authority) को भी उसका रुका हुआ पैसा मिलने के चलते एरिया के डवलपमेंट को भी हरी झंडी मिल जाएगी.

    भारत सरकार की तरफ से स्पेशल विंडो फॉर अफोर्डेबल एंड मिड इनकम हाउसिंग (स्वामी फंड) बनाया गया है. इसे स्वामी फंड भी कहते हैं. कुछ प्रोजेक्ट में बिल्डर फ्लैट बॉयर्स से पूरा या 70-80 फीसद तक पैसा ले लेते हैं और फिर प्रोजेक्ट को अधूरा छोड़ देते हैं. ऐसे में सभी नियमों के पूरा होने पर स्वामी फंड से प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिए फंड जारी किया जाता है. यह वो फंड है जिसका साल 2019 में केंद्रीय वित्त मंत्री ने 20 हजार करोड़ रुपए के स्वामी फंड का ऐलान किया था.

    अधूरे रिहायशी प्रोजेक्टों को वित्तीय सहायता देकर पूरा कराने की जिम्मेदारी एसबीआई कैपिटल को दी गई थी. ग्रेनो वेस्ट में अटके प्रोजेक्टों को स्वामी फंड से पूरा करने के लिए अथॉरिटी ने भी बिल्डरों को सहयोग किया. इस फंड से मदद पाने के लिए कई बिल्डरों ने आवेदन किया है. इसी स्वामी फंड में से 3 प्रोजेक्ट कैपिटल एथेना, पंचशील ग्रींस टू, सिक्का ग्रुप को फंड जारी हो चुका है. वहीं सुपर सिटी और जतस्या भी फंड पाने की लाइन में हैं.

    कैपिटल एथेना को मिले 165 करोड़ रुपये

    वहीं कैपिटल एथेना के 900 फ्लैट खरीदारों के आशियाने की आस जल्द पूरी होने वाली है. स्वामी फंड से ग्रेनो वेस्ट स्थित कैपिटल एथेना प्रोजेक्ट को स्वामी फंड की 165 करोड़ रुपए की दूसरी किस्त जारी की गई है. पहली किस्त मई में दे दी गई थी. स्वामी फंड से वित्तीय सहायता पाने वाला एथेना ग्रेटर नोएडा का पहला प्रोजेक्ट है. बिल्डर ने इस रकम से ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी की बकाया प्रीमियम रकम की दूसरी किस्त करीब 17 करोड़ रुपए भी दे दी है.

    Noida में जुड़ेगी मेट्रो की ब्ल्यू और एक्वा लाइन, जानिए क्या बना है प्लान

    पंचशील ग्रींस टू को मिले 249 करोड़ रुपए

    रुके प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिए स्वामी फंड से पंचशील ग्रींस टू को भी 249 करोड़ रुपए मिलेंगे. पंचशील को पहली किस्त अक्तूबर में जारी हो चुकी है, जिससे निर्माण चल रहा है और अथॉरिटी को प्रीमियम धनराशि की बकाया किस्त करीब 34 करोड़ रुपये भी मिल गई है. पंचशील ग्रींस टू के बनने से 1300 खरीदारों को फ्लैट मिलेगा. साथ ही, अथॉरिटी को बकाया रकम भी मिल जाएगी. इसके अलावा सिक्का ग्रुप को भी स्वामी फंड से स्वीकृति मिल चुकी है.

    सुपर सिटी और जतस्या को भी मिल सकता है फंड

    जानकारों की मानें तो स्वामी फंड से दो और बिल्डरों को भी जल्द पैसा मिल सकता है. दोनों बिल्डर आवेदन कर चुके हैं. ये दो बिल्डर सुपर सिटी और जतस्या हैं. इनको फंड दिलाने की कार्रवाई चल रही है. दोनों बिल्डर की परियोजनाओं में सैकड़ों फ्लैट हैं.

    Tags: Greater Noida Authority, Own flat, SBI Bank

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर