चाय बेचने वाले की बेटी को मिली 3.8 करोड़ रुपये की स्कॉलरशिप

एक बेहद गरीब परिवार से ताल्लुक रखने वाली सुदीक्षा के पिता चाय बेचते है. अमेरिका के बॉबसन कॉलेज ने सुदीक्षा को पढ़ने के लिए स्कॉलरशिप दी है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: June 19, 2018, 1:23 PM IST
चाय बेचने वाले की बेटी को मिली 3.8 करोड़ रुपये की स्कॉलरशिप
सुदीक्षा भाटी और उसके माता-पिता
News18 Uttar Pradesh
Updated: June 19, 2018, 1:23 PM IST
नोएडा के दादरी इलाके की रहने वाली सुदीक्षा भाटी ने अपनी काबिलियत के दम पर यूएस में स्कॉलरशिप हासिल की है. 98 फीसदी मार्क्स के साथ सुदीक्षा ने अपने जिले में टॉप किया है. एक बेहद गरीब परिवार से ताल्लुक रखने वाली सुदीक्षा के पिता चाय बेचते है. अमेरिका के बॉबसन कॉलेज ने सुदीक्षा को पढ़ने के लिए स्कॉलरशिप दी है.

यह भी पढ़ें: PCS Mains 2017: दूसरी पाली का प्रश्न पत्र खुलने से अभ्यर्थियों का हंगामा, पेपर निरस्त

अमेरिकी के मैसाचुसेट्स में स्थित प्रतिष्ठित बॉबसन कॉलेज ने सुदीक्षा भाटी को चार साल की पढ़ाई के लिए 3.8 करोड़ की स्कॉलरशिप दी है. सुदीक्षा जल्द ही अपने सपनों को पूरा करने सात समंदर पार जाएंगी. बेहद गरीब पारिवार से आने वाली सुदीक्षा के लिए यहां पहुंचना आसान नहीं था. परिवार का पालन करने के लिए पिता किसी तरह चाय बेच कर घर का गुजारा चलाते थे.

यह भी पढ़ें:  मथुरा में तीन लोगों की गोली मारकर हत्या, ट्रिपल मर्डर से मचा हड़कंप

लेकिन बेटी की पढ़ाई के प्रति ललक को देखकर समाज और परिवार की परवाह किए बगैर उन्होंने सुदीक्षा को आगे लगातार पढ़ाने की ठान ली और इसी बीच विद्याज्ञान लीडरशिप एकेडमी के बारे में जानकारी हुई जो गरीब परिवार के बच्चों को स्कूली शिक्षा पूरी करने और उन्हें अपनी योग्याता दिखाने के लिए कई तरह के कार्यक्रम चलाती है.

यह भी पढ़ें: लखनऊ: दो होटलों में लगी भीषण आग में 5 की मौत, मजिस्ट्रेटी जांच के आदेश

सुदीक्षा ने बताया कि 2011 में मुझे विद्याज्ञान लीडरशिप एकेडमी स्कूल में दाखिला मिल गया और इसके बाद मेरे लिए पढ़ाई जारी रखना आसान हो गया. इस स्कूल में बड़ी संख्या में गरीब समुदाय से आने वाले बच्चे पढ़ते हैं और मुझे भी वहां ये मौका मिला. इसके साथ ही सुदीक्षा बताती हैं की शुरुआत में परिवार और रिश्तेदारों को आपत्ति थी, लेकिन माता-पिता ने पढ़ाई जारी रखने के लिए हर कदम पर प्रोत्साहित किया.

बता दें कि शिव नडार फाउंडेशन की तरफ से  विद्याज्ञान लीडरशिप अकादमी की स्थापना 2009 में की गई थी. यहां 1900 से ज्यादा गरीब परिवारों के बच्चे स्कूल एजुकेशन ले रहे हैं.

(रिपोर्ट: अमित सिंह)
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर