Home /News /uttar-pradesh /

gyanvapi mosque survey muslim side will challenge varanasi civil court order of sealing after claims of shivlinga found in vazu khana

ज्ञानवापी मस्जिद में वजूखाने को सील करने के आदेश को हाईकोर्ट में चुनौती देगा मुस्लिम पक्ष

ज्ञानवापी मस्जिद परिसर के सर्वे के बाद हिंदू पक्ष ने वहां स्थित वजूखाने में शिवलिंग मिलने का दावा करते हुए सिविल कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था, जिसके बाद कोर्ट ने उस स्थान को सील करने का आदेश दिया है. सिविल कोर्ट के इस फैसले के खिलाफ मुस्लिम पक्ष अब इलाहाबाद हाईकोर्ट जाने की तैयारी कर रहे हैं. वहां उनकी कोशिश इस फैसले पर स्टे लेने की होगी.

अधिक पढ़ें ...

वाराणसी. उत्तर प्रदेश के प्रसिद्ध ज्ञानवापी मस्जिद के वजूखाने को सील करने को लेकर वाराणसी सिविल कोर्ट के आदेश को मुस्लिम पक्ष इलाहाबाद हाईकोर्ट में चुनौती देगा. दरअसल मस्जिद परिसर के सर्वे के बाद हिंदू पक्ष ने वहां स्थित वजूखाने में शिवलिंग मिलने का दावा करते हुए सिविल कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था, जिसके बाद कोर्ट ने उस स्थान को सील करने का आदेश दिया है.

सिविल कोर्ट के इस फैसले के खिलाफ मुस्लिम पक्ष अब इलाहाबाद हाईकोर्ट जाने की तैयारी कर रहे हैं. वहां उनकी कोशिश इस फैसले पर स्टे लेने की होगी. वहीं सुप्रीम कोर्ट भी मंगलवार को ज्ञानवापी मस्जिद में हुए सर्वे के खिलाफ मुस्लिम पक्ष की याचिका पर सुनवाई करने वाला है.

ये भी पढ़ें- ज्ञानवापी मस्जिद के वजूखाने में शिवलिंग मिलने का दावा कितना सही? जानें कोर्ट कमिश्नर ने क्या कहा

दरअसल हिंदू पक्ष के वकील मदन मोहन यादव ने संवाददाताओं से बातचीत में दावा किया, ‘सर्वे दल को ज्ञानवापी मस्जिद परिसर में नंदी की प्रतिमा के सामने वजू खाने (मस्जिद के अंदर वह जगह, जहां लोग नमाज पढ़ने से पहले हाथ, पैर और मुंह धोते हैं) के पास शिवलिंग मिला है.’ वहीं वादी पक्ष के पैरोकार सोहनलाल आर्य ने भी दावा किया कि सर्वे के दौरान ‘बाबा’ मिल गए हैं. उन्होंने कहा कि गुंबद, दीवार और फर्श के सर्वे के दौरान कई साक्ष्य दबे हुए से दिखे.

उधर सर्वे टीम में शामिल वरिष्ठ अधिवक्ता हरिशंकर जैन ने शिवलिंग को सुरक्षित स्थिति में रखने के लिए सिविल जज (सीनियर डिवीजन) रवि कुमार की अदालत में अर्जी दाखिल की. इस याचिका पर वाराणसी सिविल कोर्ट ने ज्ञानवापी मस्जिद के वजूखाने को सील करने का आदेश जारी करते हुए कहा, ‘जिला मजिस्ट्रेट बनारस को आदेश दिया जाता है कि जिस स्थान पर शिवलिंग प्राप्त हुआ है. उस स्थान को तत्काल प्रभाव से सील कर दें और सील किए गए स्थान पर किसी भी व्यक्ति का प्रवेश वर्जित किया जाता है.’

सिविल कोर्ट ने इसके साथ ही वाराणसी के डीएम, पुलिस कमिश्नर और सीआरपीएफ कमांडेंट को सील किए गए स्थान को संरक्षित एवं सुरक्षित रखने की जिम्मेदारी देते हुए इसके उल्लंघन पर उनकी निजी जवाबदेही तय करने का आदेश दिया है. (एजेंसी इनपुट के साथ)

Tags: Allahabad high court, Gyanvapi Mosque, Varanasi news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर