लाइव टीवी

रायबरेली में मिली छात्रा की अधजली लाश, आक्रोशित लोगों ने NH 30 पर लगाया जाम
Rae-Bareli News in Hindi

MOHAN KRISHAN | News18 Uttar Pradesh
Updated: February 3, 2020, 2:36 PM IST
रायबरेली में मिली छात्रा की अधजली लाश, आक्रोशित लोगों ने NH 30 पर लगाया जाम
छात्रा लाश मिलने से आक्रोशित लोगों ने लगाया जाम

रायबरेली (Raibareily) में छात्रा की अधजली लाश (Half burnt Dead body) के मामले ने तूल पकड़ लिया है. परिजनों और स्थानीय लोगों ने एनएच30 पर जाम लगाया दिया था जिसे जल्द कार्रवाई का भरोसा देकर खुलवाया गया है.

  • Share this:
रायबरेली. उत्तर प्रदेश के रायबरेली ज़िले के हरचंदपुर थाना क्षेत्र के गोपाल ढाबा के पास हाथ-पैर बंधी मिली बीएससी छात्रा (BSC student) की लाश के मामले ने तूल पकड़ लिया है. लोगों में इस बात लोकर आक्रोश है कि घटना के 3 दिन बाद भी आरोपी (Culprits) खुले घूम रहे हैं. लोगों ने इस वीभत्स वारदात को अंजाम देने वाले आरोपियों की तत्काल गिरफ्तारी (Arrest) और उन्हें फांसी दिलाए जाने की मांग को लेकर एनएच 30 पर जाम (Jam) लगा दिया.

शनिवार को मिला था युवती का अधजला शव
शनिवार को रायबरेली के हरचंदपुर थाना क्षेत्र के गंगागंज के पास बाग में एक अज्ञात युवती का अधजला शव मिलने से क्षेत्र में सनसनी मच गई थी. युवती के हाथ-पैर रस्सी से बंधे हुए पाए गए थे. कहा जा रहा था कि पहले युवती की हत्या की गई और फिर पहचान छिपाने के लिए आरोपी उसे जलाकर मौके से भाग निकले थे. बाद में मौके पर पहुंची पुलिस ने फोरेंसिक टीम के साथ मौका मुआयना किया, जहां पुलिस को युवती के पास से कुछ नोटस मिले थे.

मौके पर मिले नोट्स से हुई थी युवती की शिनाख्त

ठीक 24 घंटे बाद पुलिस ने युवती की पहचान बछरावां कस्बे के सब्जी मंडी निवासी दिलीप गुप्ता की 21 वर्षीय पुत्री वंशिका गुप्ता के रुप में की थी. पुलिस के मुताबिक वंशिका बीएससी फायनल ईयर की छात्रा थी और अपनी सहेली के साथ कॉलेज गई थी. उसकी सहेली ने फोन कर बताया कि उसका अपहरण हो गया है. पुलिस ने बताया कि उन्हें मौके से कुछ सबूत हाथ लगे हैं जिससे आधार पर पुलिस अपनी जांच कर रही है. कुछ नए तथ्य भी सामने आए हैं जिनसे पुलिस ने मामले का जल्द पटाक्षेप करने का आश्वासन दिया है.

स्थानीय MLA के आश्वासन पर खत्म हुआ प्रदर्शन
प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की उदासीन कार्रवाई के खिलाफ सोमवार को सैकड़ों लोगों ने सड़क पर शव रख कर प्रदर्शन शुरू कर दिया. भीड़ सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी कर रही है. मौके पर भारी पुलिस फोर्स मौजूद है, उच्चाधिकारी लोगों के मान मनौव्वल में जुटे हैं. काफी देर बाद बीजेपी के स्थानीय विधायक राम नरेश रावत द्वारा मृतका के परिजनों को 5 लाख रुपये की आर्थिक मदद और दोषियों को जल्द गिरफ्तार करने के आश्वासन पर लोगों ने जाम हटाया, जिसके बाद पुलिस ने शव को अपने कंधे पर रख कर उसे मृतका के घर पहुंचाया, जहाँ से उसके अंतिम क्रियाकर्म की तैयारी शुरू की गई है.ये भी पढ़ें -
रंजीत हत्याकांड: अपने ही विधायक को जूता मारने वाले पूर्व BJP सांसद ने इशारों में CM योगी पर किया हमला
प्रयागराज: CAA-NRC के विरोध में महिलाओं का प्रदर्शन 23वें दिन भी जारी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायबरेली से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 3, 2020, 2:36 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर