होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /

UP: हापुड़ में बड़ा हादसा, फैक्ट्री में बॉयलर फटने से 9 मजदूरों की मौत, सीएम योगी ने जताया शोक

UP: हापुड़ में बड़ा हादसा, फैक्ट्री में बॉयलर फटने से 9 मजदूरों की मौत, सीएम योगी ने जताया शोक

हापुड़ की एक फैक्ट्री में बॉयलर फटने से अब तक 8 मजदूरों की मौत हो चुकी है.

हापुड़ की एक फैक्ट्री में बॉयलर फटने से अब तक 8 मजदूरों की मौत हो चुकी है.

Hapur Boiler Blast: यूपी के हापुड़ जिले में एक फैक्ट्री में बॉयलर फटने के कारण नौ मजदूरों की मौत हुई है. वहीं, 19 लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं, जिन्‍हें अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है. मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने इस घटना पर शोक जताया है.

अधिक पढ़ें ...

हापुड़. यूपी के हापुड़ जिले में एक फैक्ट्री में बॉयलर फटने के कारण नौ मजदूरों की मौत हुई है. वहीं, इस घटना में 19 लोग घायल हुए हैं, जिनका अस्‍पताल में इलाज चल रहा है. इसमें से कुछ की हालत नाजुक बनी हुई है. इस मामले पर मेरठ आईजी प्रवीण कुमार ने कहा कि अब तक नौ लोगों की मृत्यु हुई है. फॉरेंसिक और अन्य टीमें जांच कर रही हैं. हादसे में जो लोग भी दोषी पाए जाएंगे उन पर कार्रवाई की जाएगी. प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, धमाका इतना तेज था कि आसपास की कई फैक्टरियों की छतें उड़ गईं.

वहीं, यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने जनपद हापुड़ में बॉयलर फटने से लगी आग में हुई मजदूरों की मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया है. उन्होंने मृतकों के शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है. वहीं, मुख्यमंत्री ने आईजी और कमिश्नर समेत सभी आलाधिकारियों को तुरंत मौके पर पहुंचने और घटना की जांच के निर्देश दिए हैं. इसके अलावा सीएम ने दुर्घटना में घायल हुए लोगों का समुचित उपचार कराए जाने के भी निर्देश दिए हैं.

हापुड़ के धौलाना थाना क्षेत्र में है फैक्‍ट्री
यह हादसा हापुड़ जिले के धौलाना थाना के यूपीएसआईडीसी में हुआ है. वहीं, सीएम योगी के आदेश के बाद मेरठ आईजी प्रवीण कुमार, मेरठ एडीजी राजीव सभरवाल, मेरठ कमिश्नर सुरेंद्र सिंह और हापुड़ डीएम समेत कई अधिकारी मौके पर मौजूद हैं. जानकारी के मुताबिक, 19 से लोगों को अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है, जिसमें से कुछ की हालत बेहद गंभीर है.

घटना को लेकर मेरठ आईजी प्रवीण कुमार से न्यूज़ 18 से बातचीत में हापुड़ हादसे में नौ मजदूरों की मौत की पुष्टि की है. इसके साथ उन्‍होंने बताया कि 19 घायल मजदूरों को अस्पताल में कराया गया भर्ती. यह मामला जिले के धौलाना थाना के यूपीएसआईडीसी का है. इसके साथ कुमार ने कहा कि पटाखा फैक्ट्री अवैध रूप से संचालित की जा रही थी. मालिक ने फैक्ट्री को किराए पर दूसरे को दे दिया था, जिसमें अवैध रूप से पटाखे बनाए जा रहे थे. हापुड़ की डीएम मेधा रूपम ने कहा कि फैक्‍ट्री में  इलेक्ट्रॉनिक उपकरण बनाने की मान्यता थी, लेकिन अब ये जांच का विषय है कि यहां क्या चल रहा था. अब तक 19 लोग घायल  हैं और 9 लोगों की मृत्यु हुई है. मामले में फॉरेंसिक टीम जांच कर रही है. जांच कमेटी का गठन होगा और जो भी दोषी पाए जाएंगे उन पर कार्रवाई होगी.

Tags: Hapur News, Yogi adityanath

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर