• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • हापुड़ शहर के 4 प्रमुख जगहों पर मिलेगा फ्री हाईस्पीड इंटरनेट

हापुड़ शहर के 4 प्रमुख जगहों पर मिलेगा फ्री हाईस्पीड इंटरनेट

हापुड़

हापुड़ : हापुड़ शहर के चार प्रमुख जगहों पर मिलेगा फ्री हाईस्पीड इंटरनेट

नगर पालिका अपनी निधि का उपयोग करेगी, जिसमें कंपनियों के अधिकारियों से बात की जा रही है, जो भी कंपनी कम दामों में बेहतर सुविधा उपलब्ध कराएगी, पालिका द्वारा उसे ही कार्य सौंपा जाएगा.

  • Share this:

    कोरोना काल में इंटरनेट का उपयोग तेजी से बढ़ा रहा है ऐसे में लोगों के द्वारा कराएगा रिचार्ज खत्म हो जाते हैं यहां तक कि बहुत से लोग पैसों की तंगी के कारण रिचार्ज भी नहीं करा पाते हैं. इसी को देखते हुए शासन ने उत्तर प्रदेश की सभी नगर पालिकाओं को फ्री इंटरनेट सेवा उपलब्ध कराने के आदेश दिए गए थे. जिससे कि लोग एक दूसरे के संपर्क में रहें. इसके बाद अब नगरपालिका हापुड़ ने शहर के मुख्य स्थानों पर फ्री इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध कराने का निर्णय लिया है. इसके लिए नगर पालिका अपनी निधि का उपयोग करेगी, जिसमें कंपनियों के अधिकारियों से बात की जा रही है, जो भी कंपनी कम दामों में बेहतर सुविधा उपलब्ध कराएगी, पालिका द्वारा उसे ही कार्य सौंपा जाएगा.

    जानिए कोनसी जगहों में से 4 मुख्य जगहों में से होगा चयन
    इन स्थानों में से चार स्थानों का होगा चयन : रेलवे रोड, मेरठ रोड तिराहा, बस स्टैंड, अतरपुरा चौपला, तहसील चौराहा, रेलवे स्टेशन.

    वही इस मामले में हापुड़ नगर पालिका परिषद के अध्यक्ष प्रफुल्ल सारस्वत ने बताया कि शासन के आदेश का पालन कराया जा रहा है. शासन से जो आदेश मिले हैं, उसी के ऊपर कार्य योजना बनाई जा रही है, नगर पालिका कार्य योजना बना रही है, चार स्थानों पर फ्री हाई स्पीड इंटरनेट दिया जाएगा.

    2 : स्नातक के लिए हापुड़ में एसएसवी कॉलेज बना छात्रों की पहली पसंद
    हापुड़ : एसएसवी पीजी कॉलेज जनपद का प्रमुख कॉलेज है, कॉलेज में प्रतिवर्ष स्नातक प्रथम वर्ष में प्रवेश के लिए स्टूडेंटस  की पहली पसंद रहती है. कॉलेज में स्नातक, परास्नातक में प्रवेश के लिए प्रत्येक वर्ष छात्र-छात्राओं की होड़ मची रहती है. एसएसवी कॉलेज की स्थापना वर्ष 1951 में श्री शिक्षा प्रसार समिति द्वारा की गई थी. कॉलेज में स्नातक स्तर पर 18 विषय और परास्नातक मैं 13 विषयो की व्यवस्था है. कॉलेज में स्नातक स्तर पर प्रथम वर्ष में प्रवेश हेतु कुल सीटों की संख्या 1430 है, इनमें बीए के 630, बीएससी गणित में 320, बीएससी बायो में 80, बीकॉम में 400 सीटें हैं. वही  परास्नातक स्तर पर प्रवेश हेतु कुल सीटों की संख्या 580 है, जिसमें से एमए में 360, एमएससी में 160, एमकॉम में 60 सीटें हैं.

    3 : छह केंद्रों पर हुई बीएड की प्रवेश परीक्षा
    बीएड संयुक्त प्रवेश परीक्षा –  2021 हापुड़ जिले में छह केंद्रों पर हुई. हापुड़ में बीएड प्रवेश परीक्षा में कुल 2897 अभ्यर्थी पंजीकृत थे. जिसमें से 2730 अभ्यर्थियों ने परीक्षा दी, परीक्षा में कोविड-19 के दिशा निर्देशों का सख्ती से पालन किया गया. कोरोना महामारी के चलते इस बार परीक्षाएं अभ्यर्थी के गृह जनपद में ही संपन्न कराई गई. परीक्षा को नकल विहीन पूरा कराने के लिए प्रशासन ने परीक्षा केंद्रों पर सीसीटीवी कैमरा, रिकॉर्डर, राउटर डिवाइस व पेयजल के साथ-साथ अन्य सभी जरूरी सुविधाओं से परीक्षा केंद्रों को पूरा किया गया, जिसमें पुलिस प्रशासन ने परीक्षा केंद्र की 200 मीटर की अवधि में किसी भी व्यक्ति को खड़े नहीं होने दिया जिसमें पुलिस सख्ती से पालन करवाती नजर आई.

    4 : हापुड़ में सात सड़क बनने से लाखों ग्रामीण होंगे लाभान्वित
    हापुड़ जनपद के तीनों ब्लाको के ग्रामीण इलाकों में सात सड़कों का निर्माण कार्य शुरू होगा. इसका प्रस्ताव पीएमजी-एसवाई ने शासन को भेज दिया है. प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत इन सड़कों का निर्माण होगा. जिसमें करीब 54 करोड़ खर्च होंगे. प्रस्तावित सड़कें यह है जिनका निर्माण होना है, हापुड़ में निजामपुर से रघुनाथपुर, पूठा हुसैनपुर, हाफिजपुर, उबारपुर होते हुए मेरठ बदायूं मार्ग, बुलंदशहर हाईवे से करीमपुर, नान, भटियाना, बड़ौदा होते हुए सपनावत मार्ग, बुलंदशहर हाईवे से डीडीजी मार्ग, गढ़ मेरठ मार्ग से झाडिना, गढ़ स्याना मार्ग से राजापुर, पिलखवा धौलाना मार्च बजेड़ा खुर्द, पिलखुवा – धौलाना  मार्ग से भोवापुर मार्ग. प्रस्तावित सड़कों के निर्माण के साथ-साथ चौड़ीकरण का भी कार्य किया जाएगा. सात सड़कों के निर्माण से करीब 50 गांव के ग्रामीणों को यात्रा करने में आसानी होगी.

    हापुड़ से न्यूज़18 लोकल के लिए सौरभ त्यागी की रिपोर्ट

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज