होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /Garhmukteshwar Election Result: गढ़मुक्तेश्वर में खिला कमल, बीजेपी के हरेंद्र चौधरी ने मारी बाजी,

Garhmukteshwar Election Result: गढ़मुक्तेश्वर में खिला कमल, बीजेपी के हरेंद्र चौधरी ने मारी बाजी,

गढ़मुक्तेश्वर विधानसभा चुनाव 2022

गढ़मुक्तेश्वर विधानसभा चुनाव 2022

Garhmukteshwar Assembly Seat Result: गढ़मुक्तेश्वर विधानसभा सीट  (GarhmukteshwarVidhan Sabha Chunav Result Live) पर बीज ...अधिक पढ़ें

Garhmukteshwar Election Result: गढ़मुक्तेश्वर विधानसभा सीट  (Garhmukteshwar Vidhan Sabha Chunav Result Live) पर एक बार फिर बीजेपी ने इतिहास रच दिया है. उत्तर प्रदेश के हापुड़ जिले में आने वाली इस सीट पर बीजेपी ने कब्‍जा कर लिया है. यहां से बीजेपी के हरेंद्र चौधरी तेवातिया (BJP Candidate Harendra Singh Tewatia) ने करीब 30 हजार वोटों के अंतर से जीत दर्ज की है. तेवतिया को इस सीट पर 103444 वोट हासिल हुए जबकि समाजवादी पार्टी के रविंद्र चौधरी को 77429 वोट मिले. वहीं बसपा को सिर्फ 43715 वोटों से संतोष करना पड़ा.

अन्‍य उम्‍मीदवारों की बात करें तो कांग्रेस ने आभा चौधरी (Congress Abha Chaudhary) को उम्मीदवार बनाया. इस सीट पर आम आदमी पार्टी सहित एआईएमआईएम आदि ने भी उम्‍मीदवार उतारे लेकिन इन्‍हें काफी कम वोट मिले. वहीं आम आदमी पार्टी तो एक हजार का आंकड़ा भी नहीं छू सकी.

गढ़मुक्तेश्वर विधानसभा चुनाव 2017

साल 2017 के विधानसभा चुनाव में गढ़मुक्तेश्वर सीट से बीजेपी के कमल सिंह ने बसपा के प्रशांत चौधरी को 35294 वोटों के अंतर से मात दी थी. कमल मलिक को 91,086 वोट, जबकि दूसरे नंबर पर रहे बसपा के प्रशांत चौधरी को 55,792 वोट मिले थे. वहीं सपा उम्मीदवार मदन चौहान को 48,810 वोट से संतुष्ट होना पड़ा था. गढ़मुक्तेश्वर विधानसभा क्षेत्र में मतदाताओं की संख्या लगभग साढ़े 3 लाख है.

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2017 (UP Assembly Elections 2017)

उत्तर प्रदेश की सत्तरहवीं विधानसभा के लिए आम चुनाव 11 फरवरी से 8 मार्च 2017 तक सात चरणों में आयोजित हुए थे. इन चुनावों में मतदान प्रतिशत लगभग 61% रहा था. भारतीय जनता पार्टी ने 312 सीटें जीतकर बहुमत प्राप्त किया था. समाजवादी पार्टी को 47 सीटें और बसपा को 19 सीटों पर जीत मिली थीं. वहीं कांग्रेस को सात सीटों से ही संतोष करना पड़ा था.

Tags: Assembly elections, Uttar Pradesh Assembly Elections

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें