• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • हापुड़ : जानिए बनखण्डा में 500 वर्षो से अजगर और बसंती माता की याद में लगते आ रहे मेले(Mela) का इतिहास

हापुड़ : जानिए बनखण्डा में 500 वर्षो से अजगर और बसंती माता की याद में लगते आ रहे मेले(Mela) का इतिहास

अजगर

अजगर माता और बसंती माता का मंदिर

जिसमें रियासत के कुछ गांवों में भयंकर आपदा, महामारी से समस्त क्षेत्र के गांवों में त्राहि-त्राहि से ग्रामीण बहुत परेशान थे.उस वक्त कुचेसर किला के महाराजा नरेश कंचन सिंह त्यागी के पुत्र कुंवर बनी सिंह त्यागी ने गांव बनखण्डा में चामुंडा माता पवित्र स्थान पर जन कल्याण के लिए एक विशाल महायज्ञ का आयोजन कराया था.

  • Share this:

    जनपद हापुड़ के गांव बनखण्डा में पीढ़ी दर पीढ़ी जनश्रुति के आधार पर लगभग 500 वर्ष पूर्व कुचेसर किला की रियासत में 360 गांव थे. जिसमें रियासत के कुछ गांवों में भयंकर आपदा, महामारी से समस्त क्षेत्र के गांवों में त्राहि-त्राहि से ग्रामीण बहुत परेशान थे.उस वक्त कुचेसर किला के महाराजा नरेश कंचन सिंह त्यागी के पुत्र कुंवर बनी सिंह त्यागी ने गांव बनखण्डा में चामुंडा माता पवित्र स्थान पर जन कल्याण के लिए एक विशाल महायज्ञ का आयोजन कराया था. जिसमें कुचेसर रियासत क्षेत्र की समस्त जनता को आमंत्रित कर यज्ञ में आहुति देने के लिए एकत्रित किया गया था. विशाल यज्ञ रियासत के कुल गुरु पंडित जगन्नाथ प्रसाद तिवारी द्वारा संपन्न कराया गया था.
    यज्ञ में आहुति देने ग्राम बनखण्डा के त्यागी समाज के एक परिवार से दो कन्याएं आई और हवन में शामिल हुई. हवन के कुछ ही समय  बाद दोनों कन्याओं (अजगर व बसंती) के जिस्म से अचानक अग्नि प्रकट हो गई तथा क्षेत्र की जनता के समक्ष यज्ञ में अग्नि समाधि लेकर अपने प्राणों की आहुति देकर जीवन समर्पित कर दिया था. इन दो कन्याओं के परमधाम जाने के कुछ ही क्षण बाद ही जल वर्षा शुरू हो गई थी. तब से लेकर आज तक कुचेसर रियासत क्षेत्र की जनता श्री अजगर माता व श्री बसंती माता की पुण्य स्मृति में माता पूजन मेले और दंगल का आयोजन होता आ रहा है.इस मेले में आस पास के सभी गांवों की लड़कियां दूर दूर से आ कर पूजा अर्चना करती है.मान्यता है कि माता कन्याओं की सभी मनोकामनाएं पूर्ण करती हैं. इस मेले में लड़कियों की ज्यादा मान्यता है.

    हापुड से न्यूज़18 लोकल के लिए सौरभ त्यागी की रिपोर्ट

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज