हापुड़ में COVID-19 के लिए तैनात डॉक्टर को पुलिस ने पीटा, तोड़ डाला हाथ
Hapur News in Hindi

हापुड़ में COVID-19 के लिए तैनात डॉक्टर को पुलिस ने पीटा, तोड़ डाला हाथ
हापुड़ जनपद में पुलिस ने डॉक्टर का हाथ तोड़ दिया

हापुड़ जनपद में पुलिस द्वारा एक डॉक्टर के साथ मारपीट का मामला सामने आया है. पुलिस ने वर्दी का रौब दिखाते हुए कोरोना वायरस संक्रमण की डयूटी पर जा रहे एक डॉक्‍टर के साथ मारपीट कर उसका हाथ तोड़ ड़ाला.

  • Share this:
हापुड़. कोरोना संकट की इस विकट घड़ी में सबसे बड़ी जिम्मेदारी डॉक्टरों पर है. डॉक्‍टर रात और दिन कोरोना (Coronavirus) संक्रमण की चपेट में आए लोगों की सेवा में लगे हुए हैं. लेकिन कई जगहों से डॉक्टरों के साथ मारपीट और बदतमीजी की खबरें भी आ रही हैं.  इसी क्रम में आज उत्तर प्रदेश के हापुड़ (Hapur) जनपद में भी पुलिस द्वारा एक डॉक्टर के साथ मारपीट का मामला सामने आया है. पुलिस ने वर्दी का रौब दिखाते हुए कोरोना वायरस संक्रमण की डयूटी पर जा रहे एक डॉक्‍टर के साथ मारपीट कर उसका हाथ तोड़ ड़ाला.

डॉक्‍टर ने पुलिसकर्मियों को अपना आईडी कार्ड और वाहन पास भी दिखाया लेकिन पुलिसकर्मियों ने आईकार्ड को फर्जी बताते हुए बाईक के टायरों में सुआ घोपकर पंचर कर दिया. घटना के बाद डॉक्‍टर किसी तरह अपनी डयूटी पर पहुंचा और साथी डॉक्‍टरों को आपबीती सुनाई. इसके बाद आक्रोशित डॉक्‍टरों ने सीओ कार्यालय पिलखुवा पर पहुंचकर आरोपी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की.

डॉक्टरों ने दी ये चेतावनी



डॉक्‍टरों ने चेतावनी दी है कि अगर इन दोषी पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई नहीं हुई तो वो कोविड-19 का काम ठप कर देंगे. डॉक्‍टर रविंद्र कुमार गाजियाबाद के सरकारी अस्‍पताल में कोविड-19 की सर्विलांस टीम में तैनात है. डयूटी पर जाने के दौरान ही पुलिसकर्मियों ने उनके साथ मारपीट की.
doctor
डॉक्‍टर रविंद्र कुमार गाजियाबाद के सरकारी अस्‍पताल में कोविड-19 की सर्विलांस टीम में तैनात है.


डॉक्टर की ड्यूटी कोविड-19 के लिए चल रही है

डॉक्‍टर रविंद्र कुमार का कहना है कि उनकी पोस्टिंग गाजियाबाद के सरकारी अस्‍पताल में COVID-19 के लिए चल रही है. वे जब पिलखुवा कोतवाली के सामने से गुजर रहे थे, तभी पुलिस की एक टीम ने उन्‍हें रोका और बाईक पर डंडा मारकर पास को फर्जी बताते हुए उनके साथ मारपीट करने लगे. उन्‍होंने बार-बार अपना परिचय दिया लेकिन किसी ने उनकी नहीं सुनी और मुझपर लाठीचार्ज किया.

पुलिस ने जांच के बाद कार्रवाई का दिया भरोसा

पीड़ित डॉक्‍टर का कहना है कि उनके साथ घटना होने के बाद गाजियाबाद में कोविड-19 का काम बंद कर दिया गया. डॉक्‍टर रविंद्र कुमार ने पिलखुवा इंस्‍पेक्‍टर पर लाठीचार्ज का आरोप लगाया है. हालांकि अब घटना सामने आने के बाद पुलिस के आलाअधिकारी जांच कर आवश्‍यक कार्रवाई का भरोसा जरूर दे रहे हैं. पिलखुवा सीओ तेजवीर सिंह का कहना है कि कुछ डॉक्‍टर उनके ऑफिस में शिकायत लेकर आए थे, प्रकरण संज्ञान में आया है जांच कर आवश्‍यक कार्रवाई की जाएगी.

ये भी पढ़ें: फतेहपुर के SP बाइक से लॉकडाउन का लेते हैं जायजा, अबतक नहीं मिला कोरोना का मरीज

मेरठ में 9 पॉजिटिव मरीजों ने कोरोना को दी मात, अस्पताल से हुए डिस्चार्ज
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज