मौत के 22 दिन बाद कब्र खोदकर निकाला गया महिला का शव, ये रही वजह
Hardoi News in Hindi

मौत के 22 दिन बाद कब्र खोदकर निकाला गया महिला का शव, ये रही वजह
मौत के 22 दिन बाद कब्र खोदकर निकाला गया महिला का शव

हालांकि इस मामले में पुलिस (Police) का कहना है कि बिना जानकारी दिए दोनों पक्षों ने समझौता करके शव को दफन कर दिया था.

  • Share this:
हरदोई. उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले (Hardoi) में सोमवार को एक विवाहिता का शव कब्र (Grave) से खोदकर बाहर निकाला और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. मृतका के मायके वालों का आरोप है कि ससुराल वालों ने महिला की हत्या कर साक्ष्य को छिपाने के लिए उसके शव को आनन-फानन में दफना दिया. मृतका के मायके वालों ने वरिष्ठ अधिकारियों से शव का पोस्टमार्टम कराने की गुहार लगाई थी, जिस पर आज पुलिस ने कार्रवाई करते हुए महिला की मौत के 22 दिन बाद शव को कब्र से बाहर निकाला.

बता दें कि हरदोई के बिलग्राम कोतवाली क्षेत्र में डीएम के निर्देश के बाद कब्र से एक महिला का शव निकलवाकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है. मृतक महिला के परिजनों ने दहेज के लिए महिला की हत्या करके शव गायब करने का आरोप लगाया था और 156 (3) सीआरपीसी के तहत न्यायालय में एक प्रार्थना पत्र दिया था. बिलग्राम कोतवाली के मोहल्ला तबेला मैदानपुरा निवासी नाजनी पत्नी वासिद उर्फ लालू की 24 अगस्त को आग से जलकर मौत हो गयी थी.

ये भी पढे़ं- लखीमपुर खीरी: कोरोना काल में बदमाशों ने पोल्ट्री कारोबारी को बंधक बनाकर लूट लिए 1000 मुर्गे



हालांकि इस मामले में पुलिस का कहना है कि बिना जानकारी दिए दोनों पक्षों ने समझौता करके शव को दफन कर दिया था. परंतु इसके बाद मृतका की मां नाजिमा पत्नी शहीद निवासी इस्लामपुर तपनौर थाना माधौगंज ने हत्या का आरोप लगाकर न्यायालय में मुकदमा चलाने के लिए प्रार्थना पत्र दिया था. इसके बाद डीएम के निर्देश के बाद शव कब्र से निकलवाया गया.
जिंदा जलाकर मार डाला

मृतका की मां के मुताबिक उनकी 27 वर्षीय बेटी नाजनी उर्फ गुड़िया को उसके ससुरालीजनों ने दहेज की अतिरिक्त मांग पूरी न कर पाने के चलते जिंदा जलाकर मार दिया और परिजनों को बिना सूचित किये उसकी लाश को भी कहीं गायब कर दिया. बताया कि ससुराल वाले शादी के तुरंत बाद से ही एक बुलेट बाइक व एक लाख नगद रुपये नगद की अतिरिक्त मांग करने लगे. जो पूरी न कर पाने के चलते नाजनी को उसके ससुरालीजन प्रताड़ित करते रहे थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज