होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /सामाजिक सौहार्द की मिसाल! एक ही मंडप में शादी और निकाह, एक दूजे के हुए 40 जोड़े

सामाजिक सौहार्द की मिसाल! एक ही मंडप में शादी और निकाह, एक दूजे के हुए 40 जोड़े

हरदोई में पिछले 22 वर्षों से सामूहिक विवाह का आयोजन किया जा रहा है,

हरदोई में पिछले 22 वर्षों से सामूहिक विवाह का आयोजन किया जा रहा है,

हरदोई के घंटाघर परिसर के विक्टोरिया हाल में सामूहिक विवाह का आयोजन हुआ. इस समारोह में 40 जोड़ों की शादी कराई गई. इमें 7 ...अधिक पढ़ें

हरदोई. यूपी के हरदोई में घंटाघर रानी विक्टोरिया हॉल में वरदान चैरिटेबल ट्रस्ट के द्वारा सामूहिक विवाह संस्कार का आयोजन किया गया. इस विवाह संस्कार में 40 जोड़ी शादी के पवित्र बंधन में बंधे, जिनमें से 36 हिंदू जोड़ों ने अग्नि को साक्षी मानकर सात फेरे लिए, तो वहीं सात मुस्लिम जोड़ों का भी निकाह कराया गया. वरदान चैरिटेबल ट्रस्ट लगातार 22 वर्षों से इस तरह के आयोजन हरदोई शहर में करा रहा है. जिसमें सरकार से कोई भी डोनेशन नहीं ली जाती है.

पिछले कई वर्षों से हर साल सामूहिक विवाह का आयोजन करने वाले वरदान ट्रस्ट द्वारा इस बार भी इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया. समारोह रविवार को घंटाघर परिसर के विक्टोरिया हाल में हुआ. जहां कन्याओं के परिजन आए वर पक्षों के लिए जनवासा गांधी भवन में बनाया गया. इस समारोह में 40 जोड़ों में 7 जोडे़ मुसलिम थे, जिनका निकाह काजी द्वारा संपन्न कराया गया. यहां ट्रस्ट की ओर से भोजन नाश्ते के साथ ही नवदंपतियों के लिए उपहारों की व्यवस्था की गई थी. यह ट्रस्ट अपने सीमित साधनों से सामूहिक विवाह संस्कार सम्पन्न कराता है तथा वर-वधू को यथोचित उपहार भी प्रदान किया जाता है.

ट्रस्टी भुवन चतुर्वेदी ने बताया कि इसी प्रकार 36 शादियां नक्सल प्रभावित छत्तीसगढ़ में भी की जा रही है. उन्होंने कहा कि हरदोई के साथ-साथ धीरे-धीरे हमारी श्रंखला पूरे भारत में ले जाने की है. इसका उद्देश्य गरीब परिवारों के लिए शादी सम्मानजनक तरीके से हो जाए, इसके लिए काम करने का है. हमने सर्व जाति सर्वधर्म समभाव का काम किया है और बिना सरकार के डोनेशन से यह काम किया जाता है. क्योंकि सभी बातों के लिए सरकार को जिम्मेदार नहीं ठहराया जाना चाहिए. समाज को भी ऐसे कामों के लिए आगे आना चाहिए.

Tags: Hardoi News, UP news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें