हरदोई में पराली जलाने को लेकर अब तक 66 किसानों के खिलाफ FIR, लेखपालों पर भी गिरी गाज

हरदोई में अब तक 66 किसानों पर पराली जलाने में एफआईआर
हरदोई में अब तक 66 किसानों पर पराली जलाने में एफआईआर

हरदोई (Hardoi) के सिटी मजिस्ट्रेट ने कहा कि पराली जलाने की घटनाओं को न रोक पाने, प्रचार-प्रसार में लापरवाही बरतने वाले लेखपालों के विरुद्ध विभागीय कार्रवाई भी की जा रही है.

  • Share this:
हरदोई. उत्तर प्रदेश के हरदोई (Hardoi) में लगातार किसानों के ऊपर पराली जलाए (Stubble Burning) जाने को लेकर मुकदमे दर्ज हो रहे हैं. जिले में अब तक 66 किसानों पर पराली जलाने के आरोप में एफआईआर दर्ज की जा चुकी है. वहीं भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) किसानों पर दर्ज हो रहे मुकदमे को लेकर नाराज है. किसान यूनियन का कहना है कि अगर किसानों का उत्पीड़न बंद नहीं हुआ तो एक आंदोलन किया जाएगा. सिटी मजिस्ट्रेट जंग बहादुर का कहना है कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों के अनुसार ही किसानों से पराली न जलाए जाने का अनुरोध किया जा रहा है. इसको लेकर प्रचार-प्रसार किया जा रहा है और न मानने वालों के विरुद्ध कार्रवाई की जा रही है.

सिटी मजिस्ट्रेट ने कहा कि इसके साथ ही पराली जलाने की घटनाओं को न रोक पाने में, प्रचार-प्रसार में लापरवाही बरतने वाले लेखपालों के विरुद्ध विभागीय कार्यवाही भी की जा रही है. जिले में लगातार पराली जलाए जाने की घटनाएं सामने आ रही हैं, जिसको लेकर लगातार किसानों पर एफआईआर दर्ज कराई जा रही है. जिले में लगातार दर्ज हो रही एफआईआर में अब तक 66 किसानों पर मुकदमे दर्ज किए गए हैं.  स्थिति ये है कि पिछले 24 घंटे में हरदोई में मल्लावां और सवायजपुर में ही 27 किसानों के विरुद्ध एफआईआर दर्ज की गई है.

24 घंटे में इनके खिलाफ एफआईआर



मल्लावां में बेरिया नजीरपुर के मजरा करियनपुरवा निवासी शिवकुमार, अनिल कुमार, हाकिम सिंह, राम बिलास, बनवारी, जमुना प्रसाद, शिवसहाय, नन्ही देवी, कृष्णा देवी, कमलेश्वरी, शाहपुर पवार के मजरा बीचपुरवा निवासी रामप्रसाद, मोहनलाल, रामऔतार, शाहपुर पवार निवासी सुशीला देवी पर एफआईआर दर्ज की गई हैं.


2 लेखपालों को प्रतिकूल प्रविष्टि, राजस्व निरीक्षक का वेतन कटा

एसडीएम सवायजपुर दीपक वर्मा ने बताया कि क्षेत्र के गांव निकारी, ढिघासर, महितापुर में एक दर्जन स्थानों पर धान की पराली जलती मिली. पराली जलाने से रोकने के लिए गठित टीम में शामिल 2 लेखपालों लवकुश और गौरव यादव को लापरवाही पर विशेष प्रतिकूल प्रविष्टि दी गई है. राजस्व निरीक्षक राजेंद्र त्रिवेदी का एक दिन का वेतन काटने की संस्तुति की गई है. संबंधित ग्राम सचिव के विरुद्ध कार्रवाई के लिए डीपीआरओ को और सिपाहियों के विरुद्ध कार्रवाई के लिए सीओ हरपालपुर को लिखा गया है. उन्होंने कहा कि जिन खेतों में पराली जलती मिली है, उन्हें चिह्नित कर एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश दिए गए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज