हरदोई के मेन बाजार में हुई जबरदस्त बुल फाइटिंग, वीडियो वायरल

बैलों की लड़ाई.

बैलों की लड़ाई.

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के हरदोई (Hardoi) शहर की मुख्य बाजार सदर बाजार में हो रही बुल फाइट का वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है. इस वीडियो में दो छुट्टा सांड़ आपस भिड़ते हुए नजर आ रहे हैं.

  • Share this:
हरदोई. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के हरदोई (Hardoi) शहर की मुख्य बाजार सदर बाजार में हो रही बुल फाइट का वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है. इस वीडियो में दो छुट्टा सांड़ आपस भिड़ते हुए नजर आ रहे हैं और आम जनता इनसे बचने का प्रयास कर रही है. हालांकि ऐसी बुल फाइट आपको कभी भी शहर या फिर शहर के बाहर देखने को मिल जाएगी. सरकार द्वारा छुट्टा जानवरों के लिए गौशालाओं का निर्माण तो कराया गया, मगर इनकी देखरेख या फिर इन्हें सुचारू रूप से चलाने का काम धरातल पर नजर नहीं आ रहा है.

हरदोई शहर के व्यस्ततम इलाके सदर बाजार में उस वक्त अफरातफरी मच गई जब दो सांड़ आपस मे भीड़ गए. जिसका राहगीरों द्वारा वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर अपलोड कर दिया गया. वीडियो अपलोड होने के बाद इसे जमकर शेयर भी किया जा रहा है. शहर के भीड़भाड़ वाले क्षेत्र में दो सांड़ों की लड़ाई जिला प्रशासन व नगर पालिका प्रशासन की पोल खोलने के लिए काफी है.

Youtube Video


आम लोगों को दिक्कत
आवारा जानवरों के इस तरह घूमने से आमजनमानस को घर से निकलने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है. आए दिन शुर्खियों में आवारा पशुओं के आतंक की कहानी दिख जाती हैं. किसानों को रात रात भर जाग कर अपनी फसलों को उजड़ने से बचाने के लिए जागना पड़ता है. सड़क पर जा रहे वाहनों के सामने आकर दुर्घटनाओं को दावत देतें हैं. शहर के किसी भी मोहल्ले या फिर गलियों में आवारा पशुओं की वजह से लोगों का घर से निकलना मुहाल हो गया है. बहुतों ने अपने परिजनों को खो दिया है, मगर यह सब जिम्मेदारों को नहीं दिखाई देता और दिखाई भी कैसे देगा जब वो अपने एसी कमरों में आरामदायक कुर्सियों से उठेंगे ही नही बाकी काम तो कागजों पर चल ही रहा है.

दुर्घटना को दावत

शहर के पॉस इलाकों या फिर पार्कों में इनका जमावड़ा किसी दुर्घटनाओं को दावत देना साबित होता जा रहा है. आवास विकास हो या रेलवे गंज इन आवारा पशुओं से सभी हैं. परेशान कई बार इस संबंध में नगर पालिका प्रशासन को शिकायत की गई, मगर नगर पालिका प्रशासन के कानों पर जूं तक नहीं रेंगती शायद वे किसी बड़ी दुर्घटना का इंतजार कर रहे हों.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज