हरदोई: बारात लेकर शादी करने पहुंचा दूल्हा.. मगर न मंडप, न दुल्हन, ठगे जाने पर लौटा खाली हाथ

शादी करवाने का मध्यस्थता कर रहे आरोपी विकास ने वर पक्ष से धीरे-धीरे कर के लगभग दो लाख रुपए ऐंठ लिए (प्रतीकात्मक तस्वीर)

शादी करवाने का मध्यस्थता कर रहे आरोपी विकास ने वर पक्ष से धीरे-धीरे कर के लगभग दो लाख रुपए ऐंठ लिए (प्रतीकात्मक तस्वीर)

दूल्हा बना युवक जब बारात लेकर बेंहदर के गांव जलालापुर में विकास के बताए घर पहुंचा तो वहां सन्नाटा पसरा हुआ था. ग्रामीणों से पूछने पर पता चला कि उस नाम का कोई भी व्यक्ति वहां नहीं रहता है. यह सुन दूल्हा और वर पक्ष हैरान रह गया और उन्हें अपने ठगे जाने का एहसास हुआ

  • Share this:

हरदोई. उत्तर प्रदेश के हरदोई (Hardoi) जिले में शादी कराने का झांसा देकर एक शख्स ने युवक से डेढ़ लाख रूपये ठग लिए. इस फर्जीवाड़े (Fraud) के दौरान आरोपी ने युवक का फर्जी तिलक भी करवा डाला. लेकिन शादी की तारीख को बारात जब बताए हुए स्थान पर पहुंची तो वहां शादी (Marriage) जैसा कुछ भी नहीं था. तब दूल्हा और वर पक्ष को अपने ठगे जाने का पता चला और उन्होंने पुलिस ने इसकी शिकायत की. जिसके बाद पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर आरोपी शख्स को गिरफ्तार कर लिया है.

घटना कछौना कोतवाली क्षेत्र की ग्राम सभा हथौड़ा के कोरिहाना गांव की है. मिली जानकारी के मुताबिक उसरियारपुर निवासी विकास नाम का युवक एक माह पूर्व गांव में आया था और अपना परिचय दूर के रिश्तेदार के रूप में देते हुए गांव में ही रूक गया. उसने पीड़ित युवक के परिजनों को झूठा प्रलोभन देते हुए कहा कि वो उनके लड़के की शादी करवाना चाहता है. इस बात से युवक के परिजन काफी खुश हुए. उसने बताया कि उसके परिचित बेंहदर के गांव जलालापुर में हैं, वो उनकी लड़की से उनके लड़के की शादी करवा देगा.

विकास ने परिजनों को विश्वास दिलाने के लिए अपने चार साथियों को बुलाकर सात मई को गांव में युवक का तिलक कार्यक्रम करवा दिया और 19 मई को शादी की तारीख सुनिश्चित हुई. अपने लड़के की शादी की तारीख तय होने से वर पक्ष के लोग इसकी तैयारियों में जुट गए. शादी की व्यवस्था करने के लिए उन्होंने अपनी दो भैंसों को भी बेच दिया. मध्यस्थता (बिचौलिया) कर रहे विकास ने वर पक्ष से धीरे-धीरे कर के लगभग दो लाख रुपए ऐंठ लिए. दूल्हा और वर पक्ष सभी रस्मों को पूरा कर के बीते बुधवार को बारात लेकर बताए गए स्थान के लिए रवाना हुए, परंतु इस दौरान विकास बीच रास्ते से कहीं गायब हो गया.

बारात जब बेंहदर के गांव जलालापुर में विकास के बताए घर पहुंची तो वहां सन्नाटा पसरा हुआ था. ग्रामीणों से पूछने पर पता चला कि उस नाम का कोई भी व्यक्ति वहां नहीं रहता है. यह सुन दूल्हा और वर पक्ष हैरान रह गया और उन्हें खुद के ठगे जाने का एहसास हुआ. उधर, विकास ने वापस कोरिहाना गांव आकर दूल्हे बने युवक की बहन को फोन कर के बारात चलने के लिए गांव से बाहर आने को कहा. लड़की ने घर की महिलाओं को पूरी बात बताई, बारात के नाम पर अन्य महिलाएं भी तैयार हो गईं. जब सभी महिलाएं बारात जाने के लिए गांव के बाहर पहुंची तो अन्य महिलाओं को देखकर विकास भाग खड़ा हुआ.
भेद खुलने पर ग्रामीणों ने दौड़ कर बिचौलिये विकास को पकड़ लिया और उसे पुलिस के हवाले कर दिया. वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) अनिल कुमार यादव ने बताया कि मामले में आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया है और विधि सम्मत कार्रवाई की जा रही है. बहरहाल, इस घटना को लेकर गांव में चर्चा का माहौल बना हुआ है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज