हरदोई: मुहर्रम जुलूस में शामिल युवक सिपाहियों की मार से बचने के लिए नदी में कूदा, मौत

News18 Uttar Pradesh
Updated: September 11, 2019, 4:56 PM IST
हरदोई: मुहर्रम जुलूस में शामिल युवक सिपाहियों की मार से बचने के लिए नदी में कूदा, मौत
पुलिस के दर से नदी में कूदे युवक की हुई मौत

मृतक के परिजनों के मुताबिक युवक की पिटाई के बाद सिपाहियों ने उसे दौड़ाया था, जिससे बचने के लिए उसने नदी में छलांग लगा दी थी, जिसके बाद नदी में डूबकर उसकी मौत हो गई.

  • Share this:
हरदोई. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के हरदोई जिले में मोहर्रम जुलूस (Muharram) के दौरान सिपाहियों (UP Police) की पिटाई से बचने के लिए एक युवक ने नदी में छलांग लगा दी. 12 घंटे की तलाश के बाद युवक का शव बरामद हुआ. युवक की मौत के बाद से उसके घर में मातम पसरा है. मामले में दो सिपाहियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. मृतक के परिजनों के मुताबिक युवक की पिटाई के बाद सिपाहियों ने उसे दौड़ाया था, जिससे बचने के लिए उसने नदी में छलांग लगा दी थी, जिसके बाद नदी में डूबकर उसकी मौत हो गई.

दरअसल, पुलिस की दबंगई का यह मामला कोतवाली देहात क्षेत्र के भीठा महासिंह गांव का है, जहां पर ताजिए के जुलूस के दौरान हिंदू समाज का एक युवक मदन (35) भी साथ चल रहा था. इसी दौरान सिपाहियों ने उसे जुलूस के साथ चलने से मना किया तो वह नहीं माना. इसी बात पर नाराज सिपाहियों ने उसे पीटना शुरू कर दिया. सिपाहियों ने उसे डंडे से इस कदर पीटा कि मदन के सिर और चेहरे पर गंभीर चोट आ गई. पुलिस की मार से दहशतजदा मदन बचने के लिए भागने लगा तो पुलिसकर्मियों ने उसे दौड़ाकर पकड़ने का प्रयास किया. इस दौरान उसने नदी में छलांग लगा दी. लगभग 12 घंटे के बाद उसका शव काफी दूर बहता हुआ पाया गया.

मामले को बढ़ता देख दोनों सिपाहियों सुनील शर्मा और एक अन्य सिपाही के ऊपर मुकदमा दर्ज कर घटना की जांच शुरू कर दी गई है. फिलहाल पुलिस की दबंगई से युवक की मौत होने से युवक के घर में मातम पसरा हुआ है.

दो सिपाहियों पर केस दर्ज

अपर पुलिस अधीक्षक ज्ञानांजय सिंह ने बताया कि मृतक मदन सिंह अपने बहन के घर आया हुआ था. उन्होंने बताया कि मदन शराब के नशे में मोहर्रम के जुलूस में घुसने की कोशिश कर रहा था. पुलिस के बार-बार समझाने पर भी नहीं मान रहा था. अपर पुलिस अधीक्षक के मुताबिक परिजनों का आरोप है कि सिपाहियों ने उसे पीटा था. जिसके बाद वह नदी में कूद गया. इस मामले में दो सिपाहियों के खिलाफ परिजनों की तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज किया गया है.

परिजनों ने की 302 और हरिजन एक्ट में मुकदमा दर्ज करने की मांग

उधर मृतक के जीजा ओमप्रकाश ने बताया कि उनका साला मदन कल लखनऊ से साढ़े तीन बजे के करीब घर आया था. घर के पास ही से ताजिया का जुलूस निकल रहा था. मदन उस जुलूस को देखने लगा. उसी दौरान ड्यूटी पर तैनात दो सिपाही सुनील और परवेज ने उसकी थप्पड़ों से पिटाई शुरू कर दी. इससे भी मन नहीं भरा तो डंडे से उसके सिर पर मारा, जिससे उसकी आंख में चोट लगी. उनसे बचने के लिए मदन ने नदी में छलांग लगा दी. छलांग लगाने के बाद वह बाहर नहीं निकला. बुधवार सुबह उसका शव उतराता हुआ मिला. जिसके बाद पुलिस उसके शव को लेकर चली गई. ओमप्रकाश की मांग है कि इस मामले में धारा 302 और हरिजन एक्ट के तहत कार्रवाई होनी चाहिए.
Loading...

(रिपोर्ट: आशीष मिश्रा)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए हरदोई से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 11, 2019, 4:56 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...