हरदोई: Lockdown में प्राइमरी स्कूल बना मयखाना, बनाई जा रही शराब और छलक रहे जाम
Hardoi News in Hindi

हरदोई: Lockdown में प्राइमरी स्कूल बना मयखाना, बनाई जा रही शराब और छलक रहे जाम
हरदोई के प्राइमरी स्कूल में बनाई और बेचीं जा रही शराब

लॉकडाउन (Lockdown) में स्कूल बंद होने के बाद यहां अराजकतत्वों का जमावड़ा लगता है. शिक्षा के मंदिर में शराब बनाई और बेची जाती है. इसका वीडियो सामने आने के बाद शिक्षा विभाग ने जांच शुरू की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 7, 2020, 8:02 AM IST
  • Share this:
हरदोई. सूबे की योगी सरकार (Yogi Government) जहां प्राथमिक विद्यालयों (Primary Schools) की दशा सुधारने में लगी है, वहीं शिक्षा का मंदिर शराब और नशाखोरी का अड्डा बनते जा रहे हैं. हरदोई (Hardoi) में एक प्राथमिक विद्यालय में शराब और सिगरेट पीने के वीडियो सामने आए हैं. दरअसल, लॉकडाउन में स्कूल बंद होने के बाद यहां अराजकतत्वों का जमावड़ा लगता है. यही नहीं यहां पर शराब बनाई और बेची जाती है. स्‍कूल में शराब पीने और धूम्रपान का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है. सोशल मीडिया पर विद्यालय में नशाखोरी का वीडियो सामने आने के बाद शिक्षा विभाग में हड़कंप मच गया है. आनन-फानन में पूरे मामले की जांच खंड शिक्षा अधिकारी को सौंपी गई है. जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने विद्यालय में शराबखोरी की पुष्टि की है और जांच रिपोर्ट आने के बाद कड़ी कार्यवाई का दावा किया है.

प्राथमिक विद्यालय में शराबखोरी और धूम्रपान करने की यह तस्वीरें हरदोई जिले के विकासखंड शाहाबाद के प्राथमिक विद्यालय चंदूपुर खैराई की हैं. तस्वीरों में आप साफ़ देख सकते हैं कि किस तरह से विद्यालय के अंदर चार-पांच लोग बैठे हैं और शराब का सेवन कर रहे हैं. यही नहीं शराब के सेवन के साथ-साथ धुएं के छल्ले भी उड़ाए जा रहे हैं. शिक्षा के मंदिर को यह लोग मयखाना बनाने पर तुले हैं.

बीएसए ने दिए जांच के आदेश
आरोप है कि लॉकडाउन में में विद्यालय बंद होने के बाद रसोईया का पति यहां पर कच्ची शराब बनाता है और फिर उसकी बिक्री करता है. यहां पर आसपास गांव के तमाम पियक्कड़ों की भीड़ जुट जाती है. ग्रामीणों ने चुपके से शराबखोरी और धूम्रपान का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल किया. विद्यालय में शराब का वीडियो तेजी के साथ वायरल हो रहा है. वायरल वीडियो के सामने आने के बाद जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने इस पूरे मामले की जांच खंड शिक्षा अधिकारी शाहाबाद को सौंपी है. जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने प्राथमिक तौर पर शराबखोरी और धूम्रपान की पुष्टि की है और जांच रिपोर्ट आने के बाद कड़ी कार्रवाई करने की बात कही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज