होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /हरदोई: ब्राह्मणों के पलायन का मामला दिल्ली पहुंचा, प्रियंका गांधी ने कांग्रेस का डेलीगेशन भेजा

हरदोई: ब्राह्मणों के पलायन का मामला दिल्ली पहुंचा, प्रियंका गांधी ने कांग्रेस का डेलीगेशन भेजा

हरदोई: ब्राह्मण पलायन के मुद्दे को लेकर कांग्रेस पार्टी ने अपना डेलिगेशन हरदोई के चटरखा गांव भेजा.

हरदोई: ब्राह्मण पलायन के मुद्दे को लेकर कांग्रेस पार्टी ने अपना डेलिगेशन हरदोई के चटरखा गांव भेजा.

Hardoi News: बता दें कि हरदोई जिले के हरपालपुर थाना क्षेत्र के बरनई चतरखा गांव में 17 अगस्त को लगभग 3 घंटे तक जमकर पत्थ ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

कांग्रेस ने 8 सदस्यीय टीम हरदोई भेजी
टीम, गांव की असल रिपोर्ट आलाकमान को भेजेगी

हरदोई: उत्तर प्रदेश के हरदोई के ब्राह्मणों के दर्द की दास्तां दिल्ली तक पहुंच गई है. दिल्ली से कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के निर्देश के बाद यूपी कांग्रेस से 8 सदस्यीय डेलिगेशन, पूर्व मंत्री नकुल दुबे के नेतृत्व में हरदोई पहुंचा. डेलिगेशन ने पीड़ितों से बात की. नकुल दुबे ने बताया कि मौके की सच्चाई की जांच कर रिपोर्ट ऊपर भेजी जाएगी. उन्होंने कहा कि इस पूरे मामले में हमारी पार्टी लोगों की मदद करेगी. उन्होंने कहा कि यहां पर रावण राज की परिकल्पना बन गयी है.

बता दें कि हरदोई जिले के हरपालपुर थाना क्षेत्र के बरनई चतरखा गांव में 17 अगस्त को लगभग 3 घंटे तक जमकर पत्थरबाजी हुई थी. इस मामले में पीड़ित, स्थानीय पुलिस से लेकर एसपी तक से मिले. लेकिन पीड़ितों का कहना था कि संतोषजनक कार्रवाई नहीं हुई. जिसके दो दिन बाद ब्राह्मण परिवारों ने गांव से पलायन कर जाने की मजबूरी को दीवार पर लिखा था.

ब्राह्मण परिवारों ने ठाकुरों पर दबंगई का आरोप लगाया था. जब इस पूरे मामले की सूचना कांग्रेस महासचिव प्रियंका वाड्रा को हुई तो, उनके निर्देश पर उपाध्यक्ष योगेश दीक्षित से 8 सदस्यीय डेलिगेशन भेजने की बात कही गई. आउटरीच विभाग के चेयरमैन विक्रम पांडे के साथ, यूपी कांग्रेस के महासचिव सैफ अली नकवी, सचिव जीतलाल सरोज, हरदोई के जिलाध्यक्ष आशीष सिंह, सुभाष पाल, विक्रम पांडे, राजवर्धन सिंह, विदुर द्विवेदी प्रतिनिधि मंडल में शामिल हैं. यह प्रतिनिधिमंडल आज यानी मंगलवार को घटनास्थल पर पहुंचा.

गांव में भय का माहौल
पूरे मामले को लेकर पूर्व मंत्री नकुल दुबे ने कहा कि गांव की स्थिति चिंताजनक और गंभीर है. उन्होंने कहा जिस तरह से गांव को छावनी में तब्दील करके अजीबोगरीब माहौल बनाया गया है, वो आश्चर्यजनक है. उन्होंने कहा कि जो अभियुक्त हैं, उनके प्रति प्रशासन गम्भीर नहीं है. उन्होंने कहा कि यहां का माहौल देखकर रावण राज की परिकल्पना गांव में देखी जा सकती है. गांव में अशांति है और लोग चैन से रह नहीं पा रहे हैं. नकुल दुबे ने बताया कि मौके की असल हकीकत जांच कर रिपोर्ट ऊपर भेजी जाएगी. जिसके बाद पार्टी नेतृत्व पीड़ितों के हक की लड़ाई लड़ेगी.

Tags: Chief Minister Yogi Adityanath, CM Yogi Aditya Nath, Hardoi News, Priyanka gandhi, Uttarpradesh news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें